Saturday, Aug 13, 2022
-->
impaired-pollution-levels-in-the-critical-category-of-delhi-ncr-air-quality

तापमान में बढ़ोतरी से घटी दिल्ली की ठिठुरन, प्रदूषण से अब भी राहत नहीं

  • Updated on 1/3/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। तेज हवा और बारिश नहीं होने की वजह से दिल्ली-एनसीआर के वातावरण में प्रदूषण का स्तर ‘बहुत खराब’ श्रेणी में पहुंचा हुआ है। केंद्र से लेकर राज्य सरकारों के प्रयास भी विफल हो रहे हैं।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार को दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) स्तर 408 रहा, जो कि ‘बहुत खराब’ श्रेणी में आता है। 

वहीं भारतीय ऊष्ण देशीय मौसम विज्ञान संस्थान (आईआईएमटी) ने बताया कि बुधवार तक प्रदूषण के बिखराव के लिए मौसमी परिस्थितियों बेहद प्रतिकूल रहने की आशंका है। विशेषज्ञों के मुताबिक यदि वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ की श्रेणी में पहुंच जाती है, तो स्वस्थ लोगों को भी सांस लेने में दिक्कत होती है।

केंद्र द्वारा संचालित वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान प्रणाली (सफर) ने दिल्ली वासियों को सलाह दी है कि धूल से बचाव वाले सामान्य मास्क पर ज्यादा भरोसा नहीं करें।

लोगों से टहलने समेत बाहर अन्य गतिविधियों से बचने और मकान की खिड़कियां बंद रखने, लकड़ी आदि नहीं जलाने, यहां तक कि मोमबत्ती और अगरबत्ती जलाने से भी मना किया है। नाक, कान व गले के विशेषज्ञ डॉक्टर स्मित वाढेर ने सलाह दी है कि दिल्ली के मौसम में घर से बाहर निकलने वालों को एन-95 या पी-100 मास्क पहनना चाहिए। 

दिल्ली जैसे शहरों में आबादी का अधिकांश हिस्सा ओजोन और नाइट्रोजन डाइऑक्साइड जैसी प्रदूषक गैसों के कारण एलर्जी जनित खांसी से परेशान होता रहता है। गले में जलन और खुजली हफ्तों से महीनों तक बनी रह सकती है।

तापमान में बढ़ोतरी से घटी दिल्ली की ठिठुरन
राजधानी के तापमान में कुछ बढ़ोतरी हुई है, जिससे ठिठुरन में थोड़ी राहत महसूस हुई। बुधवार को दिल्ली का न्यूनतम पारा 6.5 डिग्री सेल्सियस पर दर्ज किया गया। मंगलवार को न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जबकि नए साल के पहले दिन तेज धूप निकली थी, जिससे नए साल का जश्न मनाने वालों के लिए मौसम अच्छा रहा।

मौसम विभाग के अनुसार, न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो मौसम के औसत तापमान से एक डिग्री कम है। मौसम विज्ञानियों ने अगले 24 घंटों में हल्की धुंध छाए रहने का अनुमान जताया है। विभाग के मुताबिक शाम को अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। वीरवार को यानि आज अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 23 और 5 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है।

इस मौसम में दिल्ली-एनसीआर से सर्दियों की बारिश लगभग अनुपस्थित रही। हालांकि, दिसम्बर में दो मौकों पर काफी हल्की बारिश देखी गई, लेकिन इसका मौसम पर कोई प्रभाव नहीं देखा गया। मौसमविदों की माने तो सप्ताह के आखिर में कुछ बारिश हो सकती है।

पिछले 24 घंटों के दौरान पड़ोसी राज्य पंजाब और हरियाणा में हल्की बारिश दर्ज की गई। जनवरी का महीना बारिश का होता है और यह दिसम्बर की तुलना में बारिश की मात्रा दो गुना कर देता है। प्रदूषकों के कारण अधिक कोहरा भी वातावरण में छा जाता है। दृश्यता के संदर्भ में जनवरी सबसे कठोर महीना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.