Saturday, Jul 31, 2021
-->
important-health-issues-related-to-men-health-prsgnt

पुरूषों की लापरवाही के कारण उनके जीवन में आती हैं स्वास्थ्य से जुड़ी ये समस्याएं, जानें और बचें...

  • Updated on 5/29/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पुरूष हमेशा से ही स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह देखे गये हैं। बाहर से फिट दिखने वाले पुरूष अक्सर अंदुरुनी स्वास्थ्य सम्बंधित परेशानियों से घिरे देखे जाते हैं। कुछ ऐसी समस्याएं होती हैं जो दिखती नहीं है लेकिन स्वास्थ्य को प्रभावित जरूर करती हैं।

पुरूषों से जुड़ी समस्याओं में से कुछ का जिक्र हम यहां कर रहे हैं। ये ऐसी समस्याएं हैं जिनकी वजह से पुरूषों का स्वभाव बदलने लगता है और सामान्य जीवन में उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

इरिटेबल मेन्स सिंड्रोम
ये एक ऐसी समस्या है जो पुरूषों के मूड पर आधारित होती है। अगर ये सिंड्रोम पुरुषों में पाया जाए तो वो खुद को अकेला फील करते हैं और शोर्ट टेम्पर हो जाते हैं। इसमें उन्हें अपनी पह्चान खोने का डर लगा रहता है और उन्हें लगता है कि उनके हाथ से सब कुछ निकल चुका है। ये सब इसलिए क्योंकि इस सिंड्रोम के कारण उनके अंदर काफी नेगेटिविटी आ जाती है।

मेल मेनोपॉज
ये महिलाओं की समस्या है लेकिन ये पुरुषों की शारीरिक और मानसिक स्थिति से जुड़ी रहने वाली प्रॉब्लम है। इसमें मेल काफी थका और निढाल फील करते हैं।

ऑस्टियोपोरोसिस
ये नॉर्मली महिलाओं में होने वाली प्रॉब्लम है लेकिन मेल में भी ये प्रॉब्लम 45 से 50 साल की उम्र में देखी जाती है। इसमें बॉडी में कैल्शियम की कमी हो जाती है जिसकी वजह से हड्डियों में दर्द होना शुरू हो जाता है। इतना ही नहीं इसके कारण बॉडी के जॉइंट्स का दर्द करना और मसल्स का खींचना शुरू हो जाता है।

प्रोस्टेट कैंसर
प्रोटेस्ट कैंसर पुरुषों में अधिकतर दिखने वाला कैंसर है। डॉक्टर्स का कहना है कि इसे हेल्दी लाइफस्टाइल को फॉलो करते हुए बढ़ने से रोका जा सकता है। साथ ही इसके बचाव और रोकथाम के उपाय जानने से इससे बचा जा सकता है।

गंजापन
ये एक ऐसी समस्या है जिसके कारण पुरुषों का आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है। ये जेनेटिक भी हो सकता है और कई बार केमिकल्स की वजह से भी गंजापन युवाओं में देखने को मिलता है। बाल वापस पाने के लिए पुरूष कई तरह के नुस्खे भी अपनाते हैं लेकिन अक्सर ये उलटा असर करते हैं। कई पुरूष बाल न होने की वजह से अपना पैशन फॉलो नहीं कर पाते तो कई कुंठा के कारण 12 महीने सर ढक कर रखते हैं।

कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरों को यहां पढ़ें...

comments

.
.
.
.
.