कश्मीर मसले पर बोले इमरान खान, सिर्फ वाजपेयी ही कर सकते थे इस मुद्दे को हल

  • Updated on 12/4/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर हमेशा से ही मुद्दा रहा है। अब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कश्मीर मसले पर बयान दिया है।  उन्होंने कहा कि इस मसले को बस बातचीत से ही सुलझाया जा सकता है। अटल बिहारी वाजपेयी का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को केवल वाजपेयी जी ही सुलझा सकते थे।

सिद्धू का यू टर्न, कहा- राहुल गांधी नहीं बल्कि इमरान के बुलावे पर गया PAK

उन्होंने आगे कहा कि अगर 2004 के लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा जीत जाती तो कश्मीर मसला तभी हल हो जाता। उन्होंने कहा कि पूर्व विदेश मंत्री  नटवर लाल ने भी उनसे यह बात कही थी। खबरों के मुताबिक इमरान खान ने आगे कहा कि जब तक दोनों देशों (भारत व पाकिस्तान) के बीच बातचीत शुरू नहीं होती है, तब तक कश्मीर मसले के समाधानों पर चर्चा नहीं की जा सकती। पाकिस्तान पड़ोसी देशों के साथ बेहतर रिश्ते बनाना चाहता है।

कुरैशी के 'गुगली' बयान पर सुषमा का पलटवार, कहा- PAK का असली चेहरा आया सामने

वहीं भारत अगले साल लोकसभा चुनाव के चलते पाक से वार्ता करने को तैयार नहीं है। करतारपुर कॉरिडोर के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि यो कोई गुगली नहीं है बल्कि एक सच्ची कोशिश है। ये स्पष्ट बात है कि इस्लामाबाद दिल्ली के साथ शांतिपूर्ण रिश्ते बनाना चाहता है। बता दें कि करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास के मौके पर भारत द्वारा दो केंद्रीय मंत्रियों को भेजे जाने पर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था भारत इमरान खान की गुगली में फंस गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.