in a high tension in jammu kashmir is preparations for elections

जम्मू-कश्मीर: तनाव के बीच घाटी में हो रही है चुनाव कराने की तैयारी

  • Updated on 8/24/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से धारा 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद घाटी (Kashmir) में पहली बार चुनाव (Election) कराने की तैयारी हो रही है। जम्मू-कश्मीर के योजना आयोग (Planning Commission) के सचीव रोहित कंसल (Rohit Kansal) ने शनिवार कहा कि जम्मू-कश्मीर में पंचायती राज व्यवस्था (Panchayati Raj System) को शुरू करने के लिए ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल (Block Development Council) का चुनाव कराने की योजना है। जम्मू-कश्मीर के 316 ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव कराने की तैयारी चल रही है। 

महाराष्ट्र: बाढ़ की वजह से दही हांडी का उत्साह रहा फीका

जम्मू-कश्मीर में 73-74 संशोधन हो गया है लागू

साल 2018 के नवंबर-दिसंबर में जम्मू कश्मीर में पंचायत और निकाय चुनाव करवाए गए थे। इस दौरान 35,096 पंच और 4,490 सरपंच चुने गए थे। हालांकि पंचायत चुनाव के बाद कभी ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल के लिए चुनाव नहीं हो पाए थे। अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से जम्मू कश्मीर में संविधान का 73वां और 74वां संशोधन लागू हो गया है। जिस कारण यहां पंचायत राज को मजूबत करने के लिए ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल का चुनाव कराने की तैयारी की जाएगी।

UAE ने किया PM मोदी को 'सर्वोच्च नागरिक सम्मान' से सम्मानित

जम्मू-कश्मीर में हिंसा की घटनाओं में आई गिरावट

योजना आयोग के सचीव रोहित कंसल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में हालात काफी बदल रहे हैं। कश्मीर में 69 पुलिस स्टेशनों के इलाकों से दिन में प्रतिबंध हटा लिया गया है। जम्मू डिवीजन के भी 81 पुलिस स्टेशन से प्रतिबंध हटाए गए हैं। 17 अगस्त के बाद से जम्मू-कश्मीर में हिंसा की घटनाओं में तेजी से गिरावट आई है। हालांकि सीमा पार आतंकवाद का खतरा लगातार बना हुआ है। आतंकवाद से निपटने के लिए सुरक्षा बल हाईअलर्ट पर हैं।

आज मेरे दोस्त अरुण के जाने से मैं दुनिया का सबसे ज्यादा दुःखी व्यक्ति हूंः मोदी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.