भारत में हर साल 8 लाख से ज्यादा सामने आते हैं जलने के मामलें, नहीं मिलता सही इलाज

  • Updated on 11/30/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत में हर साल जलने के कई मामले सामने आते हैं लेकिन सही और सुरक्षित सुविधाएं पर्याप्त ना होने के कारण मरीजों का ढंग से इलाज नहीं हो पाता है। इंटरनेशनल सोसाइटी ऑफ बर्न इंजुरीज (आईएसबीआई) की सालाना बैठक से पहले एक रिपोर्ट पेश की गई जिसमें भारत में जलने पर मरीज को देश में मिलने वाली सुविधाओं पर ध्यान चर्चा की गई है। इस बार सालाना होने वाला कांग्रेस का आयोजन भारत में हो रहा है इसके लिए इस लिए रिपोर्ट की हर तरफ चर्चा हो रही है।

सर्दियों में चिलब्लेन यानी हाथ पैरों की सूजन से परेशान रहते हैं तो घर पर करें इलाज

रिपोर्ट में कहा गया है कि हर साल भारत में 7 से 8 लाख मरीज जलने की वजह से घायल होते थे लेकिन सही इलाज ना होने की वजह से कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आयोजक ने बताया कि 30 नवंबर को आईएसबीआई की 19वीं कांग्रेस का उद्घाटन केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन करेंगे। पांच दिवसीय यह सम्मेलन चार दिसंबर तक चलेगा।

सर्दियों में मेथी का साग देगा जोड़ों के दर्द में आराम और चेहरे पर ग्लो

बताया जा रहा है कि इस सम्मेलन पर बर्न बर्डन ऑफ द वर्ल्ड विषय पर चर्चा की जाएगी जिसमें देश में सामने आने वाली दिक्कतों पर चर्चा होगी। साथ ही जलने से होने वाली घटनाओं की रोकथाम और इलाज पर चर्चा की जाएगी। 

कभी घर में काम करके समय हाथ जल जाएं या फिर किसी भी वजह से शरीर पर आग या जल जाएं तो कुछ आसान तरीकों से इससे निपटा जा सकता है। आएये जानते हैं कुछ आसान उपाय...

  • जलने पर तुंरत पानी की नीचें हाथ रखें। नल के जलते पानी के नीचे जले हुए हिस्से को तुंरत रखें। 
  • इसके अलावा हल्दी के पानी से भी जले हुए भाग पर लगाने से भी आराम मिलता है। 
  • कच्चा आलू लगाने से भी लाभ होता है। जले हुए हिस्से पर कच्चे आलू को रगड़ें, फायदा होगा। 
  • तुलसी से पत्तों का रस निकाल लें और उस रस को जले हुए भाग पर लगाएं, आराम मिलेगा। 
  • जलने पर नारियल का तेल लगाएं। इससे जलन कम होगी और आराम मिलेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.