Wednesday, Dec 01, 2021
-->
in-the-midst-of-dengue-now-black-fungus-also-came-to-the-fore-four-patients-hospitalized

डेंगू के बीच अब ब्लैक फंगस भी आया सामने, चार मरीज अस्पताल में भर्ती 

  • Updated on 10/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। कोरोना का प्रभाव बहुत कम होने के बाद डेंगू लोगों के लिए मुसीबत बना हुआ है। इस बीच अब ब्लैक फंगस के मामलें भी फिर से सामने आने शुरू हो गए है। जिसे लेकर स्वास्थ्य विभाग की और भी चिंता बढ़ गई है। जहां मई में कोरोना संक्रमण की चपेट में आए चार मरीजों में ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है। सभी मरीजों का आरडीसी स्थिति निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। इनमें से एक मरीज मुरादनगर क्षेत्र का रहने वाला है, जबकि तीन मरीज अलग-अलग जिलों के रहने वाले हैं। सभी मरीज डायबिटीज से पीडि़त है।

पिछली बार जून, जुलाई में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या में तेजी आई थी। अधिकांश मरीजों का इलाज निजी अस्पताल में हुआ था, सरकारी स्तर पर ब्लैक फंगस के इलाज को लेकर अधिक सुविधाएं थी। हालांकि विभाग की ओर से इंजेक्शन उपलब्ध कराए गए थे। अब एक बार फिर से ब्लैक फंगस लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। जिसके बाद अब तक जिले में 85 मरीज मिल चुके हैं। इनमें से तीन मरीजों की मौत भी हो चुकी है, जबकि अन्य स्वस्थ हो चुके हैं।

मरीजों का इलाज कर रहे हर्ष ईएनटी अस्पताल के डायरेक्टर डॉ. बीपी त्यागी ने बताया कि चार मरीज ब्लैक फंगस की चपेट में आए है। ये सभी मरीजों की आयु 45 से 55 के बीच है। सभी मरीजों की स्थिति में सुधार हो रहा है। डॉ. बीपी त्यागी ने बताया कि हापुड़ और मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना निवासी मरीज की नाक, मथुरा के रहने वाले मरीज की बाई आंख और कनौजा मुरादनगर के मरीज के जबड़े में ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है। बताया कि संक्रमण अधिक बढऩे के चलते जबड़े को निकालना पड़ा है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.