Wednesday, Dec 02, 2020

Live Updates: Unlock 7- Day 2

Last Updated: Wed Dec 02 2020 10:00 PM

corona virus

Total Cases

9,523,678

Recovered

8,958,524

Deaths

138,467

  • INDIA9,523,678
  • MAHARASTRA1,828,826
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA884,897
  • TAMIL NADU781,915
  • KERALA602,983
  • NEW DELHI578,324
  • UTTAR PRADESH545,545
  • WEST BENGAL526,780
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA318,725
  • TELANGANA269,816
  • RAJASTHAN268,063
  • CHHATTISGARH237,322
  • BIHAR235,616
  • HARYANA234,126
  • ASSAM212,776
  • GUJARAT209,780
  • MADHYA PRADESH206,128
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB152,091
  • JAMMU & KASHMIR110,224
  • JHARKHAND109,151
  • UTTARAKHAND74,340
  • GOA45,389
  • HIMACHAL PRADESH40,518
  • PUDUCHERRY36,000
  • TRIPURA32,723
  • MANIPUR23,018
  • MEGHALAYA11,810
  • NAGALAND11,186
  • LADAKH8,415
  • SIKKIM4,990
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,710
  • MIZORAM3,825
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,327
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
in-this-way-the-terrorists-created-conspiracy-pulwama-attack

इस तरह से आतंकियों ने रची थी पुलवामा हमले की साजिश, 3 बार हुए थे मंसूबों में नाकाम

  • Updated on 2/18/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पुलवामा में हुए आतंकी हमले से पूरे देश में शोक, गुस्सा और बदले की भावना का सैलाब उमड़ रहा है। इस हमने में भारत को बहुत बड़ी क्षति हुई है। शायद जिसकी भरपाई मुमकिन ही ना हो। इस हमलें में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। जिसके बाद देश उन्हें हर रोज याद कर रहा है। लेकिन इसके बाद एक रिपोर्ट में बड़ा खुलासा हुआ है। जिसे हम आपको बताने जा रहे हैं।

पुलवामा हमले में आत्मघाती हमलावर आदिल अहमद डार ने सीआरपीएफ के काफिले से लाल रंग की ईको कार टकराई थी। रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि वह कार सीआरपीएफ के काफिले के साथ करीब 2 मिनट तक चलती रही थी। सूत्रों के मुताबिक आतंक के सरगना जैश -ए- मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर ने अपने भतीजे उस्मान हैदर की मौत का बदला लेने के लिए ये हमला करवाया था। जानकारी के लिए बता दें कि मसूद का भतीजा पिछले साल 31 अक्टूबर को मुठभेड़ में मारा गया था। 

सरकारी पैसे पर ऐश करते हैं हुर्रियत के नुमाइंदे, विदेश में पढ़ते हैं बच्चे, जानें पूरी कहानी

साथ ही यह भी खुलाशा हुआ है कि आतंकियों ने सेना के कैंप पर बारुदी सुरंग बिछाकर सुरक्षाबलों पर हमला करने की साजिस रची थी। आतंकी अपने इस मंसूबे में तीन बार नाकाम रह चुके हैं। इतना ही नहीं इस तरह की कोशिश के चलते जैश के 12 आतंकियों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था। बताया जा रहा है कि जेश ने जनवरी में भी विस्फोटक से भरी गाड़ी से सेना पर हमला करने की कोशिस की थी। लेकिन कश्मीर में भारी बर्फबारी के चलते उनके मंसूबों पर पानी फिर गया था। 

आतंकवाद की जड़ से जुड़ी है Brainwashing, जानिए कैसे खेला जाता है ये खेल?

इसके बाद जानकारी मिली थी की आतंकी 9 फरवरी को सेना पर हमला करने वाले थे। लेकिन उनकी नापाक हरकत इस बार भी सफल नहीं हो पाई। भारत ने आतंक के आका अफजल गुरु को 9 फरवरी को फांसी के तख्ते पर टांग दिया था। जिसके चलते आतंकी इसी दिन इस हमले को अंजाम देने की फिराक में थे, लेकिन इस बार भी बर्फबारी के चलते आतंकी इस में सफल नहीं हो पाए। इसके बाद 14 फरवरी को उन्होंने इस नापाक वारदात को अंजान दे दिया।

6 अलगाववादियों की सुरक्षा ली वापस, जानिए कौन हैं ये अमन के सौदागर!

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी दोपहर जवानों पर सबसे बड़ा आत्मघाती हमला हुआ। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए। जानकारी के मुताबिक 2500 जवानों का काफीला पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग से गुजर रहा था। इस बीच विस्फोटक से लदी कार बस में आ घुसी जिसमें 40 जवान शहीद हो गए। इसके साथ ही इस हमले में कई भारतीय जवान घायल भी हो गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.