Friday, Nov 16, 2018

बावा ग्लास ग्रुप के प्रतिष्ठानों पर इनकम टैक्स का छापा

  • Updated on 6/13/2018

देहरादून/ब्यूरो। इनकम टैक्स डायरेक्टोरेट ऑफ इनवेस्टीगेशंस की टीम ने कई प्रतिष्ठानों पर ताबड़तोड़ छापे मारे हैं। इसमें बड़ी वित्तीय गड़बड़ियां पाई गई हैं। कानपुर, दिल्ली के साथ ही देहरादून में बावा फ्लोट ग्लास ग्रुप प्रतिष्ठानों पर छापेमारी की गई है।

बुधवार को इनकम टैक्स डीआई के प्रमुख निदेशक अमरेंद्र कुमार के निर्देशन में व्यापक स्तर पर छापेमारी की गई। कंपनी पर इनकम टैक्स चोरी और पब्लिक रेवेन्यू की बड़े पैमाने पर चोरी करने के आरोप हैं। कंपनी द्वारा मनी मार्केट और प्रतिभूति बाजार में गोलमाल करने का आरोप है।

उत्तराखंड: सामूहिक नकल करते पकड़े गए 47 छात्र-छात्राएं, सभी रेस्टीकेट

इस कंपनी ने करोड़ों रुपये जमीन समेत अन्य संपत्तियों में लगाए गए। उससे संबंधित टैक्स नहीं दिया गया था। साथ ही साथ बिक्री के रिकार्ड को छिपाया गया। यह बिक्री भी अरबों रुपये की है। इससे सरकार को राजस्व की हानि हुई है। नबंर दो के खाते भी सीज किए गए हैं।

आयकर विभाग इनवेस्टिगेशंस डायरेक्टोरेट के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस कंपनी ने आयकर चोरी के साथ ही कई प्रकार की वित्तीय गड़बड़ियां की हैं। कंपनी ने भूमि और रियल एस्टेट में भी भारी मात्रा में निवेश किया है। 

खनन माफिया ने की राजस्व टीम को कुचलने का प्रयास, पांच गिरफ्तार

सूत्रों का कहना है कि इस कंपनी संचालक के उत्तराखंड की कुछ बड़ी हस्तियों से बेहतर संबंध हैं। उनके संरक्षण से कई जगह सस्ती जमीन मिली है। इसके अलावा कुमाऊं के कई स्थानों में मैन्यूफैक्चरिंग कनशेसंस लेने में भी यह कंपनी आगे रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.