Wednesday, Dec 08, 2021
-->
increasing global pressure on china nefarious activities sohsnt

चीन की नापाक हरकतों पर बढ़ रहा वैश्विक दबाव, इन देशों ने किया ड्रैगन को अलर्ट

  • Updated on 7/9/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। चीन से निकले कोरोना वायरस का सामना आज पूरी दुनिया कर रही है। वहीं दूसरी ओर लद्दाख विवाद हो या भूटान के सकतेंग वन्य जीव अभ्यारण पर चीन का झूठा दावा हो या फिर वियतनाम के इलाके में अपनी जंगी पोत को तैनात करना हो। चीन किसी न किसी वजह से अपने पड़ोसी देशों के लिए परेशानी पैदा करने में लगा हुआ है। ऐसे में अब विश्व बिरादरी का चीन की हरकतों पर सब्र जवाब देने लगा है। 

PAK का दावा- कुलभूषण जाधव ने रिव्यू पिटिशन से किया इनकार, दया याचिका की मांग की

संयुक्त बयान जारी कर चीन को दिया संकेत

ऐसे में अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के रक्षा मंत्रालयों की ओर से जारी एक संयुक्त बयान के मुताबिक हिंद महासागर क्षेत्र में बढ़ रहे खतरों को देखते हुए साझा रणनीति बनाने का संकेत दिया गया है। वहीं इस मुद्दे पर भारत और अमेरिका के विदेश मंत्रालयों की ओर से जारी बयान में भी चीन को लेकर परोक्ष तौर पर रणनीतिक संकेत दिया गया था। 

इमरान सरकार ने इस्लामाबाद में बनने वाले कृष्ण मंदिर निर्माण पर लगाई रोक

यथास्थिति में बदलाव करने पर होगा विरोध

ईस्ट चाइना सी में चीन की बढ़ रही हलचल को देखते हुए, चीन की ओर इशारा करते हुए अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया ने संयुक्त बयान जारी कर कहा है कि अगर इस क्षेत्र में किसी देश की तरफ से बलपूर्वक यथास्थिति में बदलाव करने का प्रयास किया जाता है तो उसका खुल कर विरोध किया जाएगा।

लद्दाख सीमा पर चीनी सैनिकों की वापसी का सिलसिला जारी, हॉट स्प्रिंग्स और गोग्रा में ढांचों को हटाया 


हांगकांग में नया कानून लागू करने का विरोध
ईस्ट चाइना सी में चीन की ओर से आक्रामक तरीके से नौवहन किया जा रहा है। चीन इस दौरान तेजी से दूसरे देशों की सीमा में प्रवेश करने का प्रयास कर रहा है। ऐसे में अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया ने हांगकांग में नया कानून लागू करने के चीन के फैसले की भी विरोध किया है। 

तिब्बत में पहुंच का मुद्दा: अमेरिका ने की चीन पर नई वीजा पाबंदियों की घोषणा

लद्दाख विवाद पर ये देश कर चुके हैं चीन का विरोध

बीते कुछ वर्षों से अमेरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया और भारत एक साझा मंच तैयार करने का प्रयास कर रहे हैं। इस मंच को क्वाड की संज्ञा दी गई है। बीते कुछ सालों में इन चारों देशों के बीच कई बैठक भी हुई हैं। वहीं लद्दाख में चीन की घुसपैठ का अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया विरोध कर चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.