युवाओं में तेजी से बढ़ रहा है हार्ट अटैक का खतरा, कसरत से मिलेगी 80 प्रतिशत तक निजात

  • Updated on 2/9/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। गलत खानपान और लाइफस्टाइल तेजी से लोगों को कैंसर, दिल की गंभीर बीमारियों और डायबटीज जैसी बीमारियों के गिरफ्त में ले रहा है। इसीक पीछे के कारणों के बारे मेंबात करें तो गलत खानपान, गलत लाइफस्टाइल और कसरत से दूरी बना लेना जैसी वजहें आती हैं। 

इन सबके बीच जो सबसे गंभीर समस्या सामने आ रही है वो है हार्ट अटैक। बुजुर्गों या फिर 50 की उम्र पार चुके लोगों को होने वाली ये बीमारी अब 30 बार या फिर यंगस्ट्रस में भी दिखाई देने लगी है, जोकि एक गंभीर संकेत है।

ध्यान करने से आने लगता है मस्तिष्क में जबरदस्त सकारात्मक बदलाव- अध्ययन

युवाओं में तेजी से बढ़ती इस समस्या के लिए कई कारण जिम्मेदार हैं लेकिन अगर समय रहते इस पर काबू नहीं पाया गया कि तो महामारी का रुप ले लेगी। इससे बचने के लिए कम उम्र में ही बच्चों और युवाओं को इसकी प्रति जागरुक करना सबसे जरुरी है। 

युवाओं को सही खानपान, तनाव, अपर्याप्त नींद, धूम्रपान, पूरा आराम ना लेना, गैजैट्स के बीत ज्यादा समय बिताना और जंक फूड के खतरों से आगाह कराना सबसे जरुरी है। 

साल की शुरुआत में ही डेंगू ने दी दस्तक, आया पहला मामला सामने

लेकिन कई शोध बताते हैं कि अगर युवाओं को दिन में कुछ समय कसरत करने के लिए प्रेरित किया जाए तो इस समस्या से बचाया जा सकता है। हर किसी के लिए कसरत करना एक अच्छा विकल्प नहीं हो सकता है लेकिन कुछ हल्की-फुल्की कसरत के साथ ब्रिस्क वॉकिंग या फिर साइकलिंग की जाए तो इससे काफी हद तक खुद को फिट रखा जा सकता है। रोजाना थोड़ी देर साइकिल चलाने से या फिर कम से कम 30 मिनट तक तेजी से वॉक की जाए तो बेहतर रहेगा। 

दिल की धड़कनों का सामान्य रहना बेहद जरूरी, असामान्य होना हो सकता है खतरनाक

अमेरिकन हार्ट असोसिएशन नाम के जर्नल में प्रकाशित स्टडी में यह बात सामने आ चुकी है कि ब्रिस्क वॉकिंग करने से हाई ब्लड प्रेशर, कलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर लेवल कम होता है और यही वे कारण हैं जिनकी वजह से ज्यादातर लोगों को हार्ट अटैक आता है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.