Thursday, May 13, 2021
-->
independence day 2020 pm''''''''s of the country addressed the country from the red fort prshnt

Independence day 2020: जानें अबतक देश के किन PM's ने लाल किले से देश को किया संबोधित

  • Updated on 8/15/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में 15 अगस्त 2020 को आजादी के 74वीं वर्षगांठ के तौर पर मनाया जाएगा। हर साल 15 अगस्त को देश के प्रधानमंत्री राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराते हैं और देश के नाम एक संदेश देते हैं। 15 अगस्त के दिन को उन विशाल बलिदानों के लिए भी याद किया जाता है जिन्होंने भारत के की स्वतंत्रता के लिए बलिदान दिया था। 15 अगस्त 1947 वो दिन था जब लंबे संघर्ष के बाद भारत ने ब्रिटिश साम्राज्य के ताज की औपनिवेशिक सत्ता को उखाड़ फेंका था।

NIA की चार्जशीट में बड़ा खुलासा, ISI और जैश ने रची थी पुलवामा आतंकी हमले की साजिश

15 अगस्त के दिन हर साल लाल किले से प्रधानमंत्री राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराते हैं और देश के नाम एक संदेश देते हैं लेकिन भारत के पहले प्रधान मंत्री, जवाहरलाल नेहरू ने इंडिया गेट के पास प्रिंसेस पार्क के मैदान में राष्ट्रीय ध्वज फहराया था, न कि लाल किले पर। तिरंगे को फहराने के बाद राष्ट्रगान का गायन और 31 तोपों की सलामी दी गई। राष्ट्र के लिए उनका पहला भाषण हिंदी में था। उसके बाद उन्होंने 1947 से 1963 तक नेहरू जी ने किले से 17 भाषण दिए।

नई शिक्षा नीति के तहत 300 से अधिक कॉलेजों को मान्यता नहीं दे पाएंगे विश्वविद्यालय- निशंक

इन प्रधानमंत्रियों ने लाल किले से किया संबोधन

  • देश के अगले पीएम, लाल बहादुर शास्त्री ने दो स्वतंत्रता दिवस (1964 और 1965) के लिए लाल किले से भाषण दिया।
  • 1966 और 1976 के बीच 11 बार शास्त्री के उत्तराधिकारी इंदिरा गांधी ने राष्ट्र को संबोधित किया। उनके इस कार्यकाल में तीन साल का ब्रेक भी था।
  • 1977 और 1978 में जनता पार्टी की गठबंधन सरकार के आपातकाल के बाद मोरारजी देसाई ने पीएम का संबोधन दिया था, उसके बाद 1979 में चौधरी चरण सिंह ने जीत दर्ज की। 1980 से अपनी मृत्यु तक वर्ष 1984 तक, लाल किले पर फिर से इंदिरा गांधी ही थी।
  • फिर 1985 से 1989 तक राजीव गांधी थे जिन्होंने लाल किले के परिसर से पीएम के तौर पर भाषण दिया था।
  • 1990 में वीपी सिंह और 1991-1995 में भारतीय अर्थव्यवस्था को नया दौर देने  वाले व्यक्ति पीवी नरसिम्हा राव थे। 1996 में एचडी देवेगौड़ा और 1997 में इंद्रकुमार गुजराल को मौका मिला।
  • 1998 से 2003 मेंअटल बिहारी वाजपेयी स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से संबोधन किया। और आगे 2004 से 2013 तक मोहन सिंह ने तिरंगा फहराया।

2014 से, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी तिरंगे को फहराना और किले की प्राचीर से देश को संबोधित कर रहे हैं। एक बार भीर इस साल 15 अगस्त 2020 को भारत के स्वतंत्रता के 74वीं वर्षगांठ के मौके पर तिरंगा फहरा कर देश को संबोधित करेंगे।


 

 


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.