Sunday, Feb 28, 2021
-->
india alerts about new strains of coronavirus 7 days compulsory quarantine pragnt

कोरोना के नए रूप को लेकर भारत में अलर्ट जारी, 7 दिन अनिवार्य क्वारंटाइन के निर्देश

  • Updated on 12/22/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दुनिया भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है। इस बीच ब्रिटेन (Britain) में कोरोना के नए स्ट्रेन ने दस्तक दे दी। ब्रिटेन के एक लैब में RT-PCR टेस्ट के दौरान कोरोना वायरस के इस खतरनाक स्ट्रेन का पता चला। इसके बाद नए वेरिएंट को लेकर दुनियाभर में चिंता बढ़ती जा रही है। ऐसे में कई देशों ने ब्रिटेन पर यात्रा प्रतिबंध लगा दिए हैं। इसी के मद्देनजर भारत भी अलर्ट हो गया है। भारत सरकार ने भी देरी ना करते हुए 23 से 31 दिसंबर तक ब्रिटेन से भारत (India) आने-जाने वाली सभी उड़ानों पर रोक लगा दी।

Corona के नए रूप से 6 देशों में हड़कंप, 70 प्रतिशत ज्यादा तेजी से फैल रहा है यह स्ट्रेन

ब्रिटेन की सभी फ्लाइट्स पर रोक
नागर विमानन मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि कोरोना वायरस का नया स्वरूप सामने आने के मद्देनजर 23 से 31 दिसंबर तक ब्रिटेन से भारत आने-जाने वाली उड़ानें स्थगित रहेंगी। भारत के अलावा कनाडा, तुर्की, बेल्जियम, इटली और इजराइल समेत कुछ अन्य देशों ने भी ब्रिटेन से आने-जाने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है। नागर विमानन मंत्रालय ने कहा है कि मंगलवार तक ब्रिटेन की उड़ानों से आने वाले यात्रियों के हवाई अड्डे पर पहुंचने के दौरान एहतियाती कदम के तौर पर कोविड-19 की जांच की जाएगी।

नए कोरोना वायरस पर बोला WHO - घबराएं नहीं हालात काबू में हैं

नेगेटिव होने पर भी 7 दिन तक होम क्वारंटाइन
ब्रिटेन की सरकार ने चेताया है कि नए किस्म के कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल सकता है और रविवार से वहां पर नयी पाबंदियां लगायी गयी हैं। नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने वाले यात्रियों को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों द्वारा बनाए गए संस्थानिक पृथक-वास केंद्रों में भेजा जाएगा। पुरी ने कहा, 'जिन लोगों में संक्रमण की पुष्टि नहीं होगी, उन्हें भी सात दिनों तक घर में अलग-थलग रहने की सलाह दी जाती है और राज्य, केंद्रशासित प्रदेश उनकी चिकित्सा स्थिति की निगरानी करेंगे।'

कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर केजरीवाल सरकार अलर्ट, घर-घर जाकर ब्रिटेन से आए लोगों की होगी जांच

ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों को कोरोना टेस्ट जरूरी
अब तक, नियम यह था कि दूसरे देशों से आने वाले यात्रियों को 72 घंटे पहले तक की जांच रिपोर्ट देने पर उन्हें भारतीय हवाई अड्डे पर फिर से कोरोना वायरस की जांच नहीं करानी पड़ती। इससे पहले, दिन में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने नागर विमानन मंत्रालय के सचिव प्रदीप सिंह खरोला को एक पत्र लिखकर 31 दिसंबर तक ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों को निलंबित करने की सिफारिश की। भूषण ने ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों की कोविड-19 की जांच भी जरूरी बनाने की सिफारिश की।

यूरोपीय संघ से मिली इजाजत, अब कोविड का टीका बाजार में उतरेगा

ब्रिटेन के यात्रियों को कहा ये
उड्डयन क्षेत्र के नियामक नागर विमानन महानिदेशालय ने सभी विमानन कंपनियों को इस संबंध में निर्देश जारी कर यह सुनिश्चित करने को कहा कि ब्रिटेन के यात्रियों को निलंबन अवधि के दौरान दूसरी जगहों से भारत के लिए विमान में सवार नहीं होने दिया जाए। नियामक ने कहा कि यह निलंबन मालवाहक उड़ानों पर लागू नहीं होगा। नागर विमानन मंत्रालय ने ट्वीट किया, 'ब्रिटेन में मौजूदा स्थिति पर विचार करते हुए भारत सरकार ने 31 दिसंबर 2020 तक ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों को स्थगित करने का फैसला किया गया है।'

कोरोना के नए स्ट्रेन का शेयर बाजार पर बुरा असर, सेंसेक्स 300 से अधिक गिरा

मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा
मंत्रालय ने कहा कि 22 दिसंबर को रात 11 बजकर 59 मिनट के बाद सेवा स्थगित होगी, जिसके कारण इस अवधि में भारत से ब्रिटेन की उड़ानें भी अस्थायी तौर पर स्थगित रहेंगी। मंत्रालय ने ट्वीट में कहा, 'एहतियाती कदम के तौर पर ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों के (22 दिसंबर को 23 बजकर 59 मिनट के पहले) हवाई अड्डा पर पहुंचने के बाद आरटी-पीसीआर तरीके से कोविड-19 की जांच की जाएगी।'

ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन, AIIMS निदेशक बोले अब वायरस के जेनेटिक सीक्वेंस की करनी होगी जांच

विमानन कंपनी ने कहा ये
विमानन कंपनी विस्तार के प्रवक्ता ने कहा कि सरकार के निर्देशों के तहत कंपनी ब्रिटेन की उड़ानों को स्थगित कर देगी। विमान कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, 'उपभोक्ताओं को असुविधा नहीं हो इसलिए हम प्रभावित लोगों को बिना किसी शुल्क के एक बार बुकिंग को पुन: निर्धारित करने की सुविधा प्रदान करेंगे।' पिछले कुछ महीने से विस्तार, एयर इंडिया, ब्रिटिश एयरवेज और विजन अटलांटिक, भारत और ब्रिटेन के बीच द्विपक्षीय 'एयर बबल' समझौता के तहत दोनों देशों के बीच सीमित उड़ानों का संचालन कर रही हैं।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.