Friday, Sep 18, 2020

Live Updates: Unlock 4- Day 18

Last Updated: Fri Sep 18 2020 09:05 AM

corona virus

Total Cases

5,212,686

Recovered

4,109,828

Deaths

84,404

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA1,121,221
  • ANDHRA PRADESH601,462
  • TAMIL NADU525,420
  • KARNATAKA494,356
  • UTTAR PRADESH336,294
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • NEW DELHI230,269
  • WEST BENGAL212,383
  • BIHAR180,788
  • ODISHA167,161
  • TELANGANA162,844
  • ASSAM148,969
  • KERALA122,216
  • GUJARAT119,088
  • RAJASTHAN105,898
  • HARYANA103,773
  • MADHYA PRADESH97,906
  • PUNJAB90,032
  • CHANDIGARH70,777
  • JHARKHAND56,897
  • CHHATTISGARH52,932
  • JAMMU & KASHMIR52,410
  • UTTARAKHAND27,211
  • GOA26,783
  • TRIPURA20,696
  • PUDUCHERRY18,536
  • HIMACHAL PRADESH9,229
  • MANIPUR7,470
  • NAGALAND4,636
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS3,426
  • MEGHALAYA3,296
  • LADAKH3,177
  • DADRA AND NAGAR HAVELI2,658
  • SIKKIM1,989
  • DAMAN AND DIU1,381
  • MIZORAM1,333
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
india-china-border-dispute-this-new-move-by-china-to-end-ladakh-border-dispute-sohsnt

लद्दाख सीमा विवाद को खत्म करने के लिए चीन ने चली ये नई चाल, भारत ने दिया करारा जवाब

  • Updated on 8/8/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारत-चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में हुए सीमा विवाद के बाद से लगातार सीमा पर शांति बहाल करने के प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन चीन अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में अब भारतीय सेना भी वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तब तक रहेगी जब तक की चीनी सेना अपनी जगह से पीछे नहीं हट जाती। 

Kerala Plane Crash: केरल में हुए विमान हादसे पर अमेरिका, चीन, पाकिस्तान ने जताया दुख

विवादित जगह से पीछे नहीं हट रहा चीन

भारत बीते समय से सीमा पर शांति कायम करने की हर संभव कोशिश कर रहा है, लेकिन चीन विवादित जगह से पीछे हटने को राजी नहीं है। भारत लगातार हो रही बैठको के दौरान चीन को साफ शब्दों में यह बात कह चुका है कि दोनों देशों को 20 अप्रैल से पहले वाली स्थिति में आना होगा, मतलब जो जहां था उसे वहीं जाना होगा, लेकिन चीन अभी भी पीछे नहीं हटा है। एक अंग्रेजी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबकि अब भारत भी पीछे नहीं हटेगा। 

चीन: रिपोर्ट में हुआ खुलासा, वुहान में कोरोना से ठीक हुए 90% लोगों के फेफड़े हुए खराब

आधिकारी सूत्र ने कही ये बात

रिपोर्ट के मुताबिक एक आधिकारी सूत्र ने कहा, चीन की पीएलए ने इसे एक स्टारिंग मैच बना दिया है और चाहता है कि भारत हाथ पर हाथ रखे बैठा रहे। हम भी इंतजार कर इसकी तैयारी में थे कि ऐसे अन्य कदम उठाएं जाएं, ताकि सीमा विवाद के द्विपक्षीय संबंधों पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभाव का चीन को एहसास हो।'

भारत दौरे पर अक्टूबर में आ सकते हैं रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, हो सकते हैं कई अहम समझौते

चीन ने रखी ये बात
रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में हुई दोनों पक्षों के सैन्य कमांडरों की बैठक में पीएलए ने भारतीय सेना को 'न्यू नॉर्मल' के लिए सहमत कराने का प्रयास किया था। इस मुद्दे पर सेना के एक कमांडर ने कहना है कि, 'आक्रामक होने और सीमा तनाव को बढ़ने के बावजूद पीएलए भारतीय सेना से सैन्य इनाम की उम्मीद रखता है।' इस मामले पर चीन को साफ संदेश दे दिया गया है कि अगर पीएलए सीमा से पीछे नहीं हटा और 20 अप्रैल के पहले की स्थिति बहाल नहीं करता है तो भारत और चीन के रिश्तों में तनाव की स्थिति पहले से अधिक बढ़ेगी।

अमेरिका ने TikTok पर की बड़ी कार्रवाई, सरकारी उपकरणों में एप के इस्तेमाल पर लगा बैन

हाल ही में हुई थी पांचवें स्तर की बैठक

वहीं दूसरी ओर हाल ही में भारतीय और चीनी सेना के शीर्ष कमांडरों के बीच पांचवें स्तर की बैठक हुई थी जो करीब 11 घंटे तक चली। बैठक को लेकर अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के मुताबकि, बातचीत के दौरान भारत ने पैंगोंग सो और पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास टकराव वाले सभी स्थानों से चीनी सैनिकों के जल्द से जल्द पूरी तरह पीछे हटने को लेकर जोर डाला गया था।

गूगल का चीन पर बड़ा एक्शन, डिलीट किए 2500 से ज्यादा यूट्यूब चैनल

चीन की तरफ मोलदो में हुई थी बैठक
उन्होंने बताया कि यह बैठक एलएसी पर चीन की तरफ मोलदो में पूर्वाह्न 11 बजे से शुरू हुई और रात 10 बजे तक चली।अधिकारियों ने कहा कि दोनों पक्ष कूटनीतिक और सैन्य वार्ता में लगे हुए हैं। हालांकि, भारतीय सेना पूर्वी लद्दाख के सभी प्रमुख क्षेत्रों में कड़ाके की सर्दियों के महीनों में सीमा रेखा पर अपनी मौजूदा ताकत बनाए रखने के लिए पर्याप्त तैयारी कर रही है। उन्होंने कहा कि वार्ता के दौरान भारतीय पक्ष ने यथाशीघ्र चीनी सैनिकों को पूरी तरह हटाने पर जोर दिया।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने की माइक पोंपिओ से बात, की कोरोना समेत कई मुद्दों पर चर्चा

स्थिति की तत्काल बहाली पर हुई थी बात 
बैठक के दौरान पूर्वी लद्दाख के सभी क्षेत्रों में पांच मई से पहले वाली स्थिति की तत्काल बहाली पर भी जोर दिया, जब पैंगोंग सो में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के कारण सीमा पर तनाव उत्पन्न हो गया था। रविवार की वार्ता में, भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व लेह स्थित 14 कोर के कमांडर, लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह ने जबकि चीनी पक्ष का नेतृत्व दक्षिणी शिनजियांग सैन्य क्षेत्र के कमांडर, मेजर जनरल लियू लिन ने किया। इससे पहले, कोर कमांडर स्तर की पिछली वार्ता 14 जुलाई को हुई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.