Friday, Jun 25, 2021
-->
india has contacted countries around the world regarding the caa nrc

भारत ने CAA, NRC को लेकर दुनिया भर के देशों से किया सम्पर्क: विदेश मंत्रालय

  • Updated on 1/2/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारत ने नये नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) के मुद्दे पर दुनिया भर के देशों से सम्पर्क किया है। यह जानकारी विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को दी।

भाजपा CAA पर समर्थन जुटाने के लिये टॉल फ्री नंबर जारी करेगी, शाह करेंगे नेतृत्व

संविधान के बुनियादी ढांचे को नहीं बदलता सीएए
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार (Raveesh Kumar) ने संवाददाता सम्मेलन में कहा,'हमने संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और एनआरसी को लेकर दुनिया भर के देशों से सम्पर्क किया है।' उन्होंने कहा, 'हमने इस बात पर जोर दिया कि कानून (सीएए) सिर्फ प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को नागरिकता प्राप्त करने में तेजी लाता है। यह संविधान के बुनियादी ढांचे को नहीं बदलता।'

CAA के खिलाफ प्रदर्शन में घायल होने से किसी छात्र की जान नहीं गई: जामिया

जल्द ही भारत जापान सम्मेलन की तारीख का होगा ऐलान 
गुवाहाटी में पिछले महीने विरोध प्रदर्शनों के बाद भारत जापान सम्मेलन स्थगित कर दिया गया था, इस सम्मेलन के आयोजन को लेकर कुमार ने कहा कि इसके लिए तारीखों को जल्द ही अंतिम रूप दिया जाएगा।

सीएए के समर्थन में बीजेपी जारी करेगी टॉल फ्री नंबर
वहीं दूसरी तरफ सीएए की समर्थन में बीजेपी जन सम्पर्क अभियान चलाने जा रही है। ये अभियान पांच जनवरी से सीएए के मुद्दे पर 10 दिवसीय जन सम्पर्क अभियान के तहत शुरू होने जा रहा है। भाजपा महासचिव अनिल जैन (anil Jain) के मुताबित, टॉल फ्री नंबर जल्द जारी किये जाने की उम्मीद है ताकि लोग सीएए पर अपना समर्थन व्यक्त कर सके जिसमें धार्मिक प्रताडना के कारण पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान के ऐसे अल्पसंख्यकों को नागरिकता का पात्र बनाया गया है जो 31 दिसंबर 2014 तक भारत में आ गए हैं। 

अभियान के तहत देश के विभिन्न हिस्सों में जायेंगे नेता
इस अभियान को लेकर बीजेपी किसी भी तरह की कोर कसर छोड़ने के मूड में नहीं है। पार्टी के नेता और कार्यकर्ता सीएए पर समर्थन जुटाने के लिये तीन करोड़ परिवारों से सम्पर्क करेंगे। बहरहाल, जैन ने कहा कि 5 से 15 जनवरी तक चलने वाले इस अभियान में केंद्रीय मंत्रियों से लेकर पार्टी संगठन के नेता देश के विभिन्न हिस्सों में जायेंगे। इसके तहत लोगों से इस विषय पर लोगों से सोशल मीडिया (Social Media) पर समर्थन व्यक्त करने का आग्रह भी किया गया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.