Thursday, Mar 21, 2019

भारत-पाक तनाव का करतारपुर कॉरिडोर पर नहीं पड़ेगा असर, तेजी से होगा निर्माण

  • Updated on 3/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने करतारपुर कोरिडोर के विकास को तेज गति से करने के गृह मंत्रालय के फैसले का स्वागत किया लेकिन साथ ही अपनी मांग दोहराई कि श्रद्धालुओं को पासपोर्ट और वीजा के बिना ही ऐतिहासिक गुरुद्वारे में जाने की अनुमति दी जाए।

राममंदिर पर नहीं बदला संघ का दृष्टिकोण, मंदिर वहीं बनेगा: RSS

उन्होंने शनिवार को एक ट्वीट कर इस परियोजना के प्रति समर्थन जताया। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘करतारपुर कोरिडोर का तेज गति से निर्माण करने के गृह मंत्रालय के फैसले का स्वागत। इससे सिख श्रद्धालु श्री गुरु नानक देव जी की 550वीं जयंती के समय पाकिस्तान में ऐतिहासिक गुरुद्वारे जा सकेंगे।’ 

लोकसभा चुनाव 2019: सात चरणों में होंगे चुनाव, आज से आचार संहिता लागू

रविवार को जारी एक बयान में सिंह ने कहा कि तेज गति से कोरिडोर का निर्माण करना ही काफी नहीं है बल्कि श्रद्धालुओं को पासपोर्ट और वीजा के बिना सीमा पार यात्रा करके ‘खुले दर्शन’ भी होने चाहिए।  उन्होंने कहा, केंद्र सरकार पासपोर्ट और वीजा की शर्त हटा कर और श्रद्धालुओं की पहचान के लिए अन्य दस्तावेजों की पुष्टि करके उन्हें आसानी से गुरुद्वारे जाने दे सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.