Wednesday, Dec 07, 2022
-->
india received 5 lakhs coronavirus testing kits form china hope with south korea too rkdsnt

भारत को मिलीं 5 लाख कोरोना टेस्टिंग किट्स, द. कोरिया से भी मिलने की उम्मीद

  • Updated on 4/16/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना महामारी को लेकर कुछ अच्छी खबरें आनी शुरू हो गई हैं। वीरवार को जहां 5 लाख टेस्टिंग किट्स की डिलेवरी चीन से हासिल हो गई, वहीं दक्षिण कोरिया से भी कोरोना टेस्टिंग किट्स मिलने की उम्मीद है। अब तक जहां देश में संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ कर 12380 पर पहुंच गया है, वहीं कुल मरने वालों की संख्या भी 414 हो चुकी है।

कोरोना कहर : CSR पर फैले भ्रम को लेकर ममता सरकार ने लगाई मोदी सरकार से गुहार


वहीं आईसीएमआर के वरिष्ठ वैज्ञानिक रमन आर. गंगाखेड़कर ने बताया कि भारत ने टेस्टिंग किट्स के जो ऑर्डर दिए थे, उसमें से  5 लाख किट्स वीरवार को प्राप्त हुए हैं। उन्होंने बताया कि इसमें एंटी बॉडी टेस्ट किट्स भी हैं। उन्होंने कहा कि इससे टेस्टिंग के काम को गति मिलेगी। 

तब्लीगी जमात के मुखिया मौलाना साद के खिलाफ ED ने दायर किया मनी लॉन्ड्रिंग का केस

हालांकि उन्होंने यह भी साफ किया कि एंटी बॉडी टेस्टिंग किट्स डाइनग्नोसिस के लिए नहीं होतीं, यह केवल सर्विलांस के लिए उपयोग में लाई जाती है। इसका उपयोग हॉटस्पॉट इलाकों में ट्रेंड समझने के लिए किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभी तक देशभर में कुल 2 लाख 90 हजार 401 सैंपलों की जांच की गई है। इसमें से 30,043 बुधवार तक हुए थे। 

बबीता फोगाट के निशाने पर फिर आए तबलीगी जमाती, सोशल मीडिया पर हुईं ट्रोल

कोरोना लॉकडाउन पर महुआ मोइत्रा ने निर्मला सीतारमण को दिया Quick Math Lesson

फिलवक्त आईसीएमआर की 176 लैब और 78 प्राइवेट लैब सैंपल जांच कर रही हैं। उन्होंने कहा कि अगर केवल नौ घंटे तक काम करते हैं तो हमारे पास 42418 सैंपल जांच की क्षमता है और यही अगर दो शिफ्ट में की जाए तो 78 हजार सैंपलों की जांच एक दिन में करने की क्षमता है। उन्होंने बताया कि हमारे पास न साधन की कमी है और न ही संसाधनों की। आठ हफ्ते तक सैंपल जांच के लिए पर्याप्त किट्स और अन्य सामग्री है। 

केजरीवाल सरकार दिल्ली में अब प्लाज्मा तकनीक से करेगी कोरोना मरीज का इलाज

उन्होंने कहा कि भारत में 24 लोगों की जांच में एक व्यक्ति पॉजिटिव मिलता है, जबकि जापान में 11 लोगों की जांच में एक व्यक्ति संक्रमित मिल रहा है। इटली में 6.7, अमरीका में 5.3, यूके में 3.1 सैंपल में एक संक्रमित मिल रहा है। इसलिए भारत को अधिक जांच बढ़ाने की जरूरत नहीं है।

कंगना रनौत की बहन रंगोली का टि्वटर अकाउंट सस्पेंड, किया था भड़काऊ ट्वीट


वहीं गृहमंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने बताया कि जो इलाके हॉटस्पॉट या कंटेनमेंट जोन नहीं हैं, वहां 20 अप्रैल से कुछ शर्तों के साथ चुनिंदा गतिविधियों की अनुमति दी जाएगी। वहीं आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति पर लगातार निगरानी रखी जा रही है।

राहुल गांधी ने आपातकाल राशन कार्ड के साथ मिडिल ईस्ट में फंसे भारतीयों का मुद्दा उठाया

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

comments

.
.
.
.
.