Wednesday, Dec 07, 2022
-->
indian-origin-suella-braverman-also-in-the-race-for-the-post-of-british-prime-minister

ब्रिटिश PM पद की दौड़ में भारतीय मूल की सुएला ब्रेवरमैन भी 

  • Updated on 7/7/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन द्वारा कंजर्वेटिव पार्टी के नेता के पद से इस्तीफा दिए जाने के साथ ही नए प्रधानमंत्री के लिए दौड़ शुरू हो गई और भारतीय मूल की भी एक उम्मीदवार‘‘दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पद‘’के लिए प्रतिस्पर्धा को तैयार हैं। गोवा मूल की सुएला ब्रेवरमैन अभी ब्रिटिश कैबिनेट में अटॉर्नी जनरल हैं। वह उन शुरूआती सांसदों में हैं जिन्होंने इस दौड़ में औपचारिक रूप से शामिल होने की घोषणा की है। हाल ही में इस्तीफा देने वाले कैबिनेट मंत्री ऋषि सुनक और गृह मंत्री प्रीति पटेल जैसे भारतीय मूल के अन्य नेताओं को भी शीर्ष पद के लिए संभावित दावेदारों के तौर पर देखा जा रहा है। 

दिल्ली हाई कोर्ट ने पीएम केयर्स कोष से संबंधित जानकारी देने के CIC के निर्देश पर लगाई रोक

बैरिस्टर और सरकार में सबसे वरिष्ठ कानूनी अधिकारी ब्रेवरमैन (42) को अपनी पार्टी के ‘ब्रेक्जिट’ समर्थक गुट से कुछ समर्थन मिलने की संभावना है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं खुद को आगे रख रही हूं क्योंकि मेरा मानना है कि 2019 का घोषणापत्र इस उद्देश्य के लिए उपयुक्त है... और मैं उस घोषणापत्र में किए गए वादों को पूरा करना चाहती हूं।’’‘ब्रेक्जिट’ के मुखर समर्थक नेता स्टीव बेकर ने भी घोषणा की कि उनका इरादा भी इस दौड़ में शामिल होने का है। 

विवादित अग्निपथ योजना पर संसदीय सलाहकार समिति को जानकारी देंगे राजनाथ सिंह

जॉनसन के औपचारिक इस्तीफे के साथ ही शीर्ष पद के लिए कई अन्य नेताओं के आगे आने की उम्मीद है। ‘द डेली टेलीग्राफ’में एक नए सर्वेक्षण के अनुसार रक्षा मंत्री बेन वालेस अगला प्रधानमंत्री बनने की दौड़ में सबसे आगे हैं। पार्टी की ‘‘1922 समिति’’ नेतृत्व प्रतिस्पर्धा के लिए समय सारिणी निर्धारित करेगी। इस दौड़ में शामिल होने के लिए किसी भी सांसद को आठ सहयोगियों द्वारा मनोनीत कराना होता है। 

पावरग्रिड के ED बीएस झा, ‘टाटा प्रोजेक्ट्स’ के 5 अधिकारियों को CBI ने किया गिरफ्तार

सर्वेक्षण के अनुसार अगर वालेस चुनाव लडऩे का फैसला करते हैं तो वह सबसे आगे रह सकते हैं। सर्वेक्षण में 13 प्रतिशत लोगों ने वालेस का नाम लिया जबकि 12 प्रतिशत लोगों ने कनिष्ठ मंत्री पेनी मोर्डौंट का समर्थन किया। पूर्व वित्त मंत्री सुनक को भी एक दावेदार के रूप में देखा जाता है और सर्वेक्षण में उन्हें 10 प्रतिशत समर्थन मिला है। 

राज बब्बर को MLA कोर्ट ने अधिकारी से मारपीट करने के मामले में सुनाई दो साल की सजा


 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.