Wednesday, Jun 16, 2021
-->
indian railways extended time for refund of canceled ticket fares in lockdown rkdsnt

रेलवे ने लॉकडाउन में यात्रा के रद्द टिकट के किराए वापसी का बढ़ाया समय

  • Updated on 1/7/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। रेल मंत्रालय ने कोरोना वायरस संकट को देखते हुए 21 मार्च से 31 जुलाई, 2020 तक के ट्रेन यात्रा के लिए काउंटर टिकट रद्द कराने की समय सीमा वर्तमान के छह महीने से बढ़ाकर नौ महीने कर दी है। मंत्रालय ने इससे पहले इस सुविधा को तीन दिन से बढ़ाकर छह महीने किया था, जब कोरोना वायरस महामारी के चलते सभी नियमित ट्रेनें रद्द हो गई थीं। 

TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने कोर्ट से अवमानना मामले में कार्यवाही रोकने का किया अनुरोध

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘रेल मंत्रालय ने यात्रा अवधि 21 मार्च, 2020 से 31 जुलाई, 2020 तक पीआरएस काउंटर टिकटों को रद्द कराने और किराये वापसी के लिए समय सीमा यात्रा की तारीख से छह महीने से आगे नौ महीने तक बढ़ाने का फैसला किया है। यह केवल रेलवे द्वारा रद्द की गई नियमित समयबद्ध ट्रेनों के लिए लागू है।’’ 

बदायूं कांड : अपने बयान को लेकर ट्रोल हुईं महिला आयोग की सदस्या, विपक्ष ने उठाए सवाल 

इसमें कहा गया है, ‘‘यात्रा की तारीख से छह महीने की अवधि समाप्ति के बाद, कई यात्रियों ने टिकटों को जोनल रेलवे के दावा कार्यालय में टीडीआर या सामान्य आवेदन के जरिये मूल टिकटों के साथ जमा किया हो सकता है। ऐसे पीआरएस काउंटर टिकटों के किराये की पूर्ण वापसी भी ऐसे यात्रियों के लिए अनुमेय होगी।’’ 

किसान आंदोलन को लेकर हरसिमरत कौर ने पीएम मोदी से की अपील 

मार्च में लॉकडाउन की घोषणा के तुरंत बाद और महामारी के कारण नियमित ट्रेन सेवाओं को निलंबित किये जाने के बाद टिकट रद्द करने की समयसीमा तीन दिन से बढ़ाकर तीन महीने कर दी गई थी और मई में इसे छह महीने के लिए बढ़ा दिया गया था। यह काउंटरों पर यात्रियों की संख्या को सीमित करने और कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए किया गया था।

दिल्ली दंगे: उमर खालिद के खिलाफ चार्जशीट ‘लीक’ होने पर पुलिस को नोटिस

 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

 

  •  
comments

.
.
.
.
.