Wednesday, Aug 04, 2021
-->
indians-visited-india-after-launch-of-vande-bharat-mission-external-affairs-ministry-prsgnt

विदेश में फंसे 1.07 लाख भारतीयों की हुई वापसी, अब 38,000 को लाने की शुरू हुई तैयारी

  • Updated on 6/4/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना संकट के बीच वंदे भारत मिशन के तहत अब तक विदेशों में फंसे 1.07 लाख से ज्यादा भारतीयों को वापस भारत लाया जा चुका है। ये आंकड़ा विदेश मंत्रालय की तरफ से गुरूवार को बताया गया है।

मंत्रालय ने कहा है कि 7 मई के बाद 17 जून को दूसरा चरण पूरा होने के बाद सरकार फिर तीसरे चरण के लिए तैयारी करना शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि इस चरण में 31 देशों से 337 इंटरनेशनल उड़ानों से करीब 38 हजार से ज्यादा लोगों को स्वदेश लाने की उम्मीद की जा रही है।

कोरोना मामले : अनलॉक 1 से बेहाल हुई दिल्ली, जानिए पिछले 24 घंटों का हाल

मंत्रालय ने बताया है कि इस  मिशन के पहले चरण में 7 मई से 15 मई तक सरकार द्वारा  12 देशों से करीब 15,000 लोगों को वापस भारत लाया गया हैं। जबकि दूसरा चरण 17 से 22 मई तक था जिसकी अवधि सरकार ने 13 जून तक बढ़ा दी थी।

बताया जा रहा है कि 7 मई को वंदे भारत मिशन शुरू होने के बाद से कुल 454 उड़ानों द्वारा विदेशों में फंसे 1,07,123 भारतीय नागरिकों को लाया गया। जबकि 3,48,565 लोगों ने वापस आने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया।

कोरोना संकट में GST बकाया मिलने से क्या राज्यों को मिलेगी राहत!

वहीँ, जानकारी मिली है कि भारत आने के लिए अभी और लोग जिनमें 17,485 प्रवासी श्रमिक, 11,511 छात्र और 8,633 पेशेवर भी शामिल हैं। अब तीसरे चरण में सभी क्षेत्रों के लोगों को वापस लाया जायेगा।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.