indias-youth-on-the-way-to-drugs

नशों के सेवन से युवा कर रहे अपनों की ही हत्या और मारपीट

  • Updated on 8/13/2019

नशे की लत से एक ओर देश के युवाओं (Youth) का स्वास्थ्य नष्ट हो रहा है तो दूसरी ओर नशे के सेवन से होने वाली मौतों से बूढ़े माता-पिता का सहारा छिन रहा है, बच्चे अनाथ हो रहे हैं, महिलाओं की मांग सूनी हो रही है।

विडम्बना है कि एक ओर नशेड़ी अधिक नशे का सेवन करके मर रहे हैं, दूसरी ओर नशा न मिलने पर आत्महत्या कर रहे हैं और तीसरी ओर नशे के प्रभाव में विवेकशून्य और ङ्क्षहसक होकर अपने ही परिजनों की हत्या, मारपीट और बहन-बेटियों से बलात्कार तक कर रहे हैं। 

अभी हाल ही में नशा खरीदने के लिए अपने घर की हर वस्तु बेच देने वाले एक 32 वर्षीय नशेड़ी युवक को फिरोजपुर के डिप्टी कमिश्नर चंद्र गैंद ने मुक्त करवाया जिसे आत्महत्या की कोशिश करने के बाद उसके परिजनों ने चारपाई के साथ जंजीर से बांध रखा था। 

  • 27 जुलाई को फिरोजपुर में देवेंद्र कुमार नामक व्यक्ति को जब उसकी पत्नी सुनीता रानी ने शराब पीने से रोका तो देवेंद्र कुमार ने उसके चेहरे पर तेजाब फैंक दिया जिससे वह बुरी तरह झुलस गई।  
  • 10 अगस्त को नशे की ओवरडोज से फाजिल्का के गांव नूरशाह और नवां हस्तां में 2 युवकों की तथा 11 अगस्त को मक्खू के गांव मल्लांवाला में अशोक कुमार नामक युवक की मौत हो गई। 
  • 11 अगस्त को नशे के लिए पैसे न मिलने पर निहाल सिंह वाला गांव में एक युवक ने खुद को ही चोटें मार कर जीवन लीला समाप्त कर ली।
  • 11 अगस्त को बङ्क्षठडा में मौड़ मंडी के गांव ‘जोधपुर पाखर’ में एक महिला ने जब अपने पति की शराब पीने की लत से तंग आकर उसे आत्महत्या करने की धमकी दी तो पति ने उसे आग लगा कर ही मार डाला। 
  • 11 अगस्त को चित्तौडग़ढ़ जिले के मांगरोल गांव में नशे में धुत्त ‘भाया नायक’ नामक युवक ने अपने पिता को कुल्हाड़ी से काट डाला और मां गंगा बाई को घायल करने के बाद स्वयं आत्महत्या का प्रयास किया। 
  • 12 अगस्त को उन्नाव में राज किशोर नामक युवक ने शराब के नशे में अपनी 70 वर्षीय बूढ़ी मां शारदा देवी को पीट-पीट कर मार डाला।

निश्चय ही यह घटनाक्रम अत्यंत दुखद है। अत: इसे रोकने के लिए देश में नशे की सप्लाई के स्रोत बंद करने, नशे के सौदागरों को पकड़ कर कठोरतम दंड देने और नशेड़ी युवाओं का सरकारी नशा मुक्ति केंद्रों में सुचारू ढंग से इलाज सुनिश्चित करवाने की भी जरूरत है।     

—विजय कुमार 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.