Friday, May 27, 2022
-->
indigo planes saved from colliding in the air, dgca started investigation in the matter

हवा में टकराने  से बचे इंडिगो के दो विमान, DGCA ने मामले की जांच शुरू की

  • Updated on 1/20/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। इंडिगो एयरलाइंस के दो विमान हवा में टकराने वाले थे। ‘अप्रोच रडार कंट्रोलर’ की सतर्कता की वजह से यह हादसा टल गया। दोनों विमानों ने न्यूनतम अनिवार्य दूरी की सीमा का उल्लंघन किया। इतना ही नहीं मामले को दबाने के लिए उसे लॉगबुक में दर्ज भी नहीं किया गया।

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) अब इस घटना की जांच कर रहा है। यह घटना 9 जनवरी को बेंगलुरू हवाई अड्डे पर उड़ान भरने के तुरंत बाद हुई। डीजीसीए के अधिकारियों के अनुसार इंडिगो के दो विमान - 6ई455 (बेंगलुरु से कोलकाता) और 6ई246 (बेंगलुरु से भुवनेश्वर) बेंगलुरु हवाई अड्डे पर ‘न्यूनतम दूरी अंतराल उल्लंघन’ में शामिल थे।

यह उल्लंघन तब होता है जब दो विमान किसी हवाई क्षेत्र में न्यूनतम अनिवार्य ऊध्र्वाधर या क्षैतिज दूरी की सीमा को पार कर लेते हैं। अधिकारियों ने बताया कि इन दोनों विमान ने नौ जनवरी की सुबह करीब पांच मिनट के अंतराल में बेंगलुरू हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी।

प्रस्थान के बाद दोनों विमान एक दूसरे की ओर बढ़ रहे थे। ‘अप्रोच रडार कंट्रोलर’ ने डायर्विजंग हेडिंग का संकेत दिया, जिससे दोनों विमानों के बीच हवा में टक्कर टल गई। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) प्रमुख अरुण कुमार ने बताया कि विमानन नियामक घटना की जांच कर रहा है और दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगा।

इंडिगो और एएआई ने इस मामले पर बयान के लिए अनुरोध का जवाब नहीं दिया है। उन्होंने बताया कि घटना को किसी लॉगबुक में दर्ज नहीं किया गया था और न ही भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) ने इसकी सूचना दी थी।       

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.