Tuesday, Oct 26, 2021
-->
information-given-about-the-legal-rights-of-mental-patients

मानसिक रोगियों के विधिक अधिकारों की दी जानकारी 

  • Updated on 10/10/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। मानसिक रोगियों को न केवल उपचार प्राप्त करने का विधिक अधिकार प्राप्त है बल्कि सामान्य नागरिकों की तरह संपत्ति और दूसरे अधिकार भी प्राप्त हैं। अपने विधिक अधिकारों के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में आवेदन कर सकते हैं। विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर जिला अस्पताल में आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि अपर जिला जज प्रथम रामचंद्र यादव ने यह बातें कहीं। 

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर स्वास्थ्य विभाग की और से जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसके तहत जिला एमएमजी अस्पताल से रैली का आयोजन भी किया गया। रैली को सीएमओ डॉ. भवतोष शंखधर व स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग के प्रतिनिधि ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसके अलावा जांच शिविर भी लगाया गया। जिला एमएमजी अस्पताल में आयोजित कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि विशेष न्यायाधीश (सीबीआई) आरपी गुप्ता ने कहा मेंटल इलनेस वास्तव में कोई अधिक घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन छिपाने पर यह एक गंभीरी बीमारी भी बन सकती है।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के प्रभारी सचिव कमल सिंह ने मानसिक स्वास्थ्य देखरेख अधिनियम-2017 के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बताया कि अधिनियम के तहत रोगी को गोपनीयता का अधिकार प्राप्त है। इसके साथ ही उसे और उसके परिजनों को उपचार के संबंध में पूरी जानकारी प्राप्त करने का भी अधिकार है। सेक्शन-27 मानसिक रोगी को निशुल्क विधिक सहायता प्राप्त करने का अधिकार देता है। जरूरत होने पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण उसे सरकारी खर्च पर वकील प्रदान करता है। मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ. आरके गुप्ता ने जिला मानसिक स्वास्थ्य प्रकोष्ठ में उपलब्ध स्वास्थ्य सेवा संबंधी पूरी जानकारी दी।

मनोचिकित्सक डॉ. साकेतनाथ तिवारी ने मानसिक रोगों के लक्षणों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया 70 से 80 फीसदी मानसिक रोगी उपचार नहीं करवा पाते। उपचार बहुत महंगा होना इसकी वजह नहीं है, बल्कि सबसे बड़ा कारण सोशल स्टिग्मा है, इसे दूर करने की जरूरत है। डॉ. विश्वकर्मा ने कहा कि मानसिक रोग भी अन्य रोगों की तरह हैं, इनका उपचार भी संभव है। कार्यक्रम में सीएमएस डॉ. अनुराग भार्गव, एसीएमओ डॉ. विश्राम सिंह, डॉ. डीएम सक्सेना, संयुक्त अस्पताल के सीएमएस डॉ. संजय तेवतिया, डॉ. जीपी मथूरिया, जीके मिश्रा अन्य मौजूद रहें। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.