Monday, Jun 21, 2021
-->
international day for disaster risk reduction 2019 know ways to reduce risk prshnt

International Day For Disaster Risk Reduction 2020: क्या है ये दिवस, जानें जोखिम को कम करने के तरीके

  • Updated on 10/13/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दुनिया में हर साल प्राकृतिक आपदाओं के आंकड़े बेहद बढ़ते जा रहे हैं इसी के मद्देनजर विश्वभर में 13 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय आपदा न्यूनीकरण दिवस (International Day for Disaster Reduction) मनाया जाता है। पिछले साल 2019 में अंतर्राष्ट्रीय आपदा नियंत्रण दिवस की थीम 'बुनियादी ढांचे और आपदा सेवाओं के विघटन से आपदा क्षति को कम करना' (Reduce Disaster Damage to Critical Infrastructure And Disruption of Basic Services) रखा गया।

इस थीम का मुख्य उद्देश्य सेंदाई फ्रेमवर्क के लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करना है। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक, सेंदाई ढांचे में "2030 तक लचीलापन विकसित करने के साथ स्वास्थ्य और शिक्षा सुविधाओं समेत महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे और आपदा सेवाओं को कम करके से आपदा क्षति को कम करना है। 

भारत ने बढ़ाई चीन- PAK की टेंशन, 35 दिनों में 10 मिसाइलों का किया सफल परीक्षण....

2013 में लिविंग विद डिसेबिलिटी एंड डिजास्टर्स था थीम
बता दें कि 13 अक्टूबर 2013 को अंतरराष्ट्रीय आपदा न्यूनीकरण दिवस के मौके पर इसका विषय ‘लिविंग विद डिसेबिलिटी एंड डिजास्टर्स’ (Living with Disability and Disasters) रखा गया। जिसमें करोड़ो लोग बेघर हुए और लाखों लोगों की मौत हो गई थी। जिसका मुख्य कारण माना जाता है कि लोगों में आपदाओं को लेकर पूर्ण जानकारी नहीं थी जिससे इतना नुकसान हुआ। ऐसे में हम अंतर्राष्ट्रीय आपदा नियंत्रण दिवस 2020 के अवसर पर आपको आपदाओं, उससे  बचने के उपाय, इनसे जुड़ी जानकारी लेकर आएं हैं। 

मुंबई की बिजली गुल पर CM उद्धव ठाकरे हुए नाराज, दिए जांच के आदेश

1989 में शुरू हुआ अंतर्राष्ट्रीय दिवस
22 दिसंबर, 1989 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने अक्टूबर के दूसरे बुधवार को प्राकृतिक आपदा न्यूनीकरण के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में नामित किया । इस घटना को 1990-1999 के प्राकृतिक आपदा न्यूनीकरण के अंतर्राष्ट्रीय दशक के दौरान प्रतिवर्ष मनाया जाना था। 20 दिसंबर, 2001 को, विधानसभा ने आपदा से बचाव, शमन और तैयारियों सहित प्राकृतिक आपदा में कमी की वैश्विक संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए पालन को बनाए रखने का निर्णय लिया।

इसे संयुक्त राष्ट्र महासभा में वैश्विक स्तर पर आपदाओं के खतरे को कम करने और जागरुकता बढ़ाने के तरीकों, समाधान और योजनाओं को पूरा करने के साथ बढ़ावा देने के उद्देश्य से तय किया गया था। सेंडाइ सेवन अभियान को यूएनडीआरआर ने शुरू किया था, इसमें भूकंप, सुनामी, बाढ़, बिजली गिरना जैसे आपदाओं से निपटने यानि आपदाओं के नुकसान को कम करने के लिए 7 लक्ष्यों का फ्रेमवर्क तैयार किया गया। 

हाथरस केस में सीबीआई ने शुरु की विवेचना , गाजियाबाद की एक टीम पहुंची गांव

आपदा के नुकसान को कम करने के प्रभावित कार्य
सेंडाइ सेवन में आपदा के नुकसान को कम करने के साथ प्रभावित स्थान पर प्रगति कार्यों को मापने के लिए भी संकेतक तैयार किए गए हैं। जिन्हें सरकारों, स्थानीय सरकारों, सामुदायिक समूहों, नागरिक समाज संगठनों, निजी क्षेत्र, अंतर्राष्ट्रीय संगठनों सहित सभी क्षेत्रों के एकजुट होकर कार्य करते हैं, ताकि प्रभावित सभी क्षेत्रों में आपदा खतरे और आपदा हानि को कम किया जा सके।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.