Tuesday, Jul 23, 2019

INX मीडिया केस : सरकारी गवाह बनीं इंद्राणी, बढ़ेंगी चिदंबरम की मुश्किलें

  • Updated on 7/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अपनी बेटी की हत्या के मामले में जेल में बंद मीडिया कारोबारी इंद्राणी मुखर्जी आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार केस में गुरूवार को सरकारी गवाह बन गईं।

गिरिराज बोले, दो से ज्यादा बच्चे वालों को वोट देने से किया जाए वंचित 

इस मामले में पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम और उनके बेटे कार्ती चिदंबरम आरोपी हैं। अदालत ने चार जुलाई को इस केस में इंद्राणी को माफी दी थी। वह आज विशेष न्यायाधीश अरुण भारद्वाज की अदालत में पेश हुई और अपने ऊपर लगाई गई शर्तों को स्वीकार कर लिया। 

#RTI कार्यकर्ता हत्याकांड : पूर्व #BJP सांसद समेत 7 अन्य को उम्रकैद

इंद्राणी ने अदालत को बताया कि वह सारे तथ्यों के साथ पूरी सच्चाई से अपना बयान दर्ज कराएंगी। उन्होंने अदालत को बताया, ‘‘मैं इस बात से अवगत हूं कि अदालत ने आदेश में उल्लिखित शर्तों पर आवेदन को मंजूरी दी है और मुझे माफी दी है।’’ अदालत ने इंद्राणी को माफी देने वाले अपने आदेश में कहा था कि गलत साक्ष्य देने और शर्तों का पालन नहीं करने की स्थिति में उन पर इन अपराधों के लिए मुकदमा चलाया जाएगा।

अब BSF और CRPF की तरह होगा रेल सुरक्षा बल (RPF) का दर्जा

इंद्राणी अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के मामले में मुंबई की बाइकुला जेल में बंद हैं। उनके पति और कंपनी के संस्थापक पीटर मुखर्जी भी इसी मामले में जेल में बंद हैं। वे शीना की हत्या की साजिश रचने के मामले में मुकदमे का सामना कर रहे हैं। न्यायाधीश ने आईएनएक्स मीडिया केस में भी आरोपी इंद्राणी को माफी तब दी जब उन्होंने कहा कि वह स्वेच्छा से सरकारी गवाह बनना चाहती हैं।

#CBI छापेमारी पर वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.