Sunday, Oct 17, 2021
-->
iskcon-will-be-decorated-with-flowers-from-thailand-on-the-day-of-janmashtami-musrnt

जन्माष्टमी के दिन थाईलैंड से आए फूलों से सजेगा इस्कॉन में कान्हा का दरबार

  • Updated on 8/27/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कृष्ण जन्माष्टमी (30 अगस्त) को लेकर राजधानी के मंदिरों ने विशेष तैयारियां शुरू कर दीं हैं। जन्माष्टमी पर कहीं राधा कृष्ण को रत्न जड़ित मुकुट पहनाया जाएगा तो कहीं कान्हा का दरबार थाईलैंड से लाए फूलों से सुसज्जित किया जाएगा। साथ ही मंदिरों को रंग बिरंगी लाइटिंग से भी सजाया जाएगा। जिसकी तैयारियां विभिन्न मंदिरों में चल रहीं हैं।

कान्हा को लगेगा 1008 प्रकार के व्यंजनों का भोग 

 इस्कॉन के राष्ट्रीय संपर्क निदेशक बृजेंद्र नंदन दास ने वीरवार को बताया कि दिल्ली के ईस्ट ऑफ कैलाश स्थित इस्कॉन मंदिर और द्वारका स्थित इस्कॉन में हमारी कृष्णजन्माष्टमी को लेकर तैयारियां शुरू हो चुकीं हैं। एक ओर जहां हम द्वारका में भव्यतम रूप से कृष्ण जन्माष्टमी मनाने की तैयारी कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर ईस्ट ऑफ कैलाश स्थित इस्कॉन मंदिर में इस बार थाईलैंड से मंगाए जा रहे फूलों से कान्हा का दरबार सजाया जाएगा। जन्माष्टमी पर कान्हा को 1008 प्रकार के व्यंजनों का भोग अर्पित किया जाएगा। वहीं कुछ कृष्ण भक्त केक का भोग भी अर्पित करेंगे। 

श्रद्धालुओं को लाइव स्ट्रीम में दिखाया जायेगा पूरा उत्सव 

बृजेंद्र नंदर दास ने बताया कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कारण बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं को आने की अनुमति अभी नहीं है। दिल्ली सरकार से शनिवार-रविवार तक इस पर निर्देश आने की संभावना है कि जन्माष्टमी पर मंदिरों में अलग-अलग समय में कितने लोगों को प्रवेश दिया जा सकेगा।

मौजूदा समय में हम सेवादारों जिन लोगों को आमंत्रित किया जाएगा। उन्हीं के मंदिर में जाने की अनुमति है। कृष्ण भक्त और श्रद्धालुओं को हम सोशल मीडिया पर सुबह से लेकर मध्य रात्रि तक का पूरा प्रोग्राम लाइव करने जा रहे हैं। ताकि कोरोना पाबंदियों के कारण जो लोग मंदिर नहीं आ पाएंगे वह प्रभु के दर्शन घर बैठे कर सकें।

इस्कॉन में जन्माष्टमी के दिन का शेड्यूल

- भगवान का भोग अर्पण   
- प्रात: काल 4.30 बजे -मंगल आरती
- सुबह 7.30 बजे -दर्शन शुरू होंगे
- दोपहर 12.30 बजे -राजभोग
- शाम 7 बजे - संध्या आरती (गौर आरती)
- रात 10.30 बजे-महाभिषेक प्रारंभ होगा
- मध्य रात्रि 12.30 बजे- महाआरती

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.