Wednesday, Jun 26, 2019

इसरो के चेयरमैन के. सीवन ने बताया 15 जुलाई को चंद्रयान-2 होगा लांच

  • Updated on 6/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत अपनी दूसरी मंगल गृह यात्रा के लिए तैयार है। इसरो के चेयरमैन के.सीवन (k.sivan) नेबताया है कि देश मिशन  चंद्रयान-2 (chandrayan-2) को 15 जुलाई को सुबह लांच करेगा। उम्मीद लगाई जा रही है कि यह चंद्रयान -2  6 सितंबर को मंगल के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा। चंद्रयान -2 में एक भी विदेशी पेलोड विदेशी नहीं है। इसमें लगया गये सभी पेलोड्स को हमने खुद ही बनाया है। 

च्रंदयान-2 के सफलता पूर्वक अपनी कक्षा में पंहुचने के बाद भारत चांद पर रोवर उतारने वाला दुनिया का चौथा देश बन जायेगा। इससे पहले केवल अमेरिका(america),रुस (russia) और चीन(china) ने ही ऐसा किया है।इस  मिशन पर कुल खर्चा 800 करोड़ का आयेगा और इसकी दूरी पृथ्वी की सतह से 384400 कि.मी होगी। यह मिशन 1 साल का है। तथा पूरी तरह से भारत में निर्मित होने के कारण इसका नाम विक्रम सारा भाई के नाम पर विक्रम रखा गया है।

ओमान के रास्ते जाएंगे किर्गिस्तान मोदी, पाकिस्तान के मंसूबों पर फिरा पानी

इसको हिदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड(Hindustan Aeronautics Ltd) ने बनाया है और उन्होंने साल 2015 में ही इसको इसरो(ISRO) के सौप दिया था। इस मिशन को 2008 में सरकार से अनुमति मिली थी शुरु में रुस ने भारत को लेंडर देने का वायदा किया था मगर बाद में रुस इसे भारत को नहीं दे सका । इसके बाद इसरो ने लगातार अप्रैल 2018, के बाद अक्टूबर 2018 इसके बाद जनवरी 2019 लांच करने पर विचार किया गया था मगर अंत में अब यह जुलाई 2019 में लांच होगा।    

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.