Friday, May 27, 2022
-->
jairam ramesh congress jibe ghulam nabi azad through buddhadeb bhattacharjee tweet rkdsnt

जयराम रमेश ने गुलाम नबी आजाद पर बुद्धदेव भट्टाचार्य को आधार बनाकर कसा तंज

  • Updated on 1/26/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद को पद्म भूषण से सम्मानित किए जाने की घोषणा के बाद पार्टी के ‘जी 23’ समूह में शामिल कई नेताओं ने बुधवार को उन्हें बधाई दी, हालांकि पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने आजाद पर कटाक्ष किया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि यह विडंबना है कि कांग्रेस को आजाद की सेवाओं की जरूरत नहीं है, जबकि राष्ट्र उनके योगदान को स्वीकार कर रहा है।

राहुल गांधी ने किया RRB परीक्षा के नियमों का विरोध कर रहे युवाओं का समर्थन

 

सरकार की ओर से मंगलवार को पद्म सम्मानों की घोषणा की गई। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री आजाद को सार्वजनिक मामलों में उनके योगदान के लिए पद्म भूषण से नवाजा जाएगा। सिब्बल ने ट्वीट किया, ‘‘गुलाम नबी आजाद को पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है। बधाई हो भाईजान। यह विडंबना है कि कांग्रेस को उनकी सेवाओं की जरूरत नहीं है जबकि राष्ट्र सार्वजनिक जीवन में उनके योगदान को स्वीकार करता है।’’ राज्यसभा में कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा ने आजाद को बधाई देते हुए कहा, ‘‘जन सेवा और संसदीय लोकतंत्र में समृद्ध योगदान के लिए गुलाब नबी आजाद को यह सम्मान मिला है जिसके वह हकदार हैं। उन्हें बहुत बधाई।’’ 

पद्म भूषण से सम्मानित गुलाम नबी आजाद ने राजनीतिक भविष्य पर दी सफाई

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने भी आजाद को बधाई दी। आजाद, सिब्बल, शर्मा और थरूर कांग्रेस के उस ‘जी 23’ का हिस्सा हैं जिसने साल 2020 में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर कांग्रेस में आमूल-चूल परिवर्तन और जमीन पर सक्रिय संगठन की मांग की थी। बहरहाल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने मंगलवार रात आजाद पर कटाक्ष किया। रमेश ने पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य की ओर से पद्म भूषण सम्मान को अस्वीकार किए जाने को लेकर आजाद पर कटाक्ष करते हुए ट्वीट किया, ‘‘यही सही चीज थी करने के लिए। वह आजाद रहना चाहते हैं गुलाम नहीं।’’ 

मुफ्त सेवाओं के खिलाफ अश्विनी उपाध्याय की PIL पर कोर्ट का चुनाव आयोग को नोटिस

उधर, सिब्बल के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए असम के मुख्यमंत्री और भाजपा नेता हिमंत बिस्व सरमा ने कहा, ‘‘मैं गुलाम नबी आजाद जी को कई वर्षों से जानता हूं। यह एक प्रतिष्ठित नेता, सज्जन व्यक्ति और घोर राष्ट्रवादी को दिया गया सम्मान है जिसके वह हकदार हैं। आजाद जी को पद्म भूषण प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का आभार।’’ सरमा भाजपा में शामिल होने से पहले कांग्रेस में थे।  

केजरीवाल का ऐलान- दफ्तरों में सिर्फ आंबेडकर, भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.