Thursday, Jan 23, 2020
jamia millia islamia students protest against caa 2019

CAA के खिलाफ जामिया के छात्रों का प्रदर्शन हुआ उग्र, मीडियाकर्मियों से की मारपीट

  • Updated on 12/15/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पिछले दो दिनों से नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे जामिया मिल्लिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia) के छात्रों का विरोध शनिवार को भी जारी रहा। सुरक्षा के मद्देनजर इलाके को भारी पुलिस बल तैनात कर छावनी में तब्दील कर दिया गया, इसके बावजूद प्रदर्शन उग्र हुआ। प्रदर्शनकारियों ने दोपहर के वक्त मीडियाकर्मियों से धक्का-मुक्की और मारपीट की। कई मीडियाकर्मियों का कैमरा तक छीन लिया। 

CAA 2019: जामिया में विरोध प्रदर्शन देखते हुए परीक्षा रद्द, 5 जनवरी तक छुट्टी

प्रदर्शन के दौरान मीडिया पर हमला करने वालों ने नवोदय टाइम्स (Navodaya Times) से जुड़े छायाकार नीरज कुमार का भी कैमरा छीन लिया। जिन लोगों के कैमरा छीना वह बाइक पर सवार होकर फरार हो गए। बाद में पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए छात्रों के बीच लाउडस्पीकर से कहा कि जिस किसी के पास कैमरा हो वह वापस कर दे, लेकिन कैमरा मिला नहीं। जिन लोगों ने कैमरा छीना था, उनकी फोटो अन्य छायाकारों ने खींच ली थी। फोटो दिखाने पर भी जामिया के छात्र और प्रशासन उनको पहचान नहीं पायी।

'भारत बचाओ' रैली में बोलीं प्रियंका- BJP है तो 100 रुपये किलो प्याज मुमकिन

5 जनवरी तक छुट्टी, परीक्षाएं रद्द 
बता दें, छात्रों के प्रदर्शन और विश्वविद्यालय परिसर में तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए जामिया मिल्लिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia) ने पांच जनवरी तक छुट्टी की घोषणा कर दी और सभी परीक्षाओं को रद्द कर दिया। विश्वविद्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, "सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। आने वाले समय में नई तारीखों की घोषणा की जाएंगी। 16 दिसंबर से पांच जनवरी तक छुट्टी घोषित की गई है। विश्वविद्यालय छह जनवरी 2020 से खुलेगा।'

पाकिस्तान को महंगा पड़ा भारत के लिए हवाई मार्ग बंद करना, हुआ खरबों का नुकसान

छात्र व पुलिसकर्मी घायल
कानून के विरोध में छात्रों ने शुक्रवार को संसद (Parliament) की तरफ मार्च करने का प्रयास किया था, जिसके बाद पुलिस और छात्रों में संघर्ष शुरु हो गया। इससे विश्वविद्यालय (University) एक तरह से युद्ध क्षेत्र में तब्दील हो गया। इस हिंसक झड़प के दौरान छात्रों की तरफ से पत्थरबाजी की गई थी, जिस पर पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए लाठीचार्ज करते हुए आंसूगैस का प्रयोग किया था। इस दौरान कई छात्र चोटिल हुए और कई पुलिसकर्मियों को भी चोटें आई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.