Friday, May 14, 2021
-->
janmashtami 2020: lord krishna looks unique in these temples, you will also be enchanted

जन्माष्टमी 2020: इन मंदिरों में भगवान कृष्ण का दिखता है अनोखा रूप, आप भी हो जाएंगे मंत्रमुग्ध

  • Updated on 8/12/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। जन्माष्टमी पर्व भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव है, जिसे बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है। इस बार यह त्योहार 12 अगस्त को पड़ रहा है। बाल कृष्ण के आगमन के लिए लोग अपने घरों में काफी साज सजावट करते हैं। इस दिन कृष्ण जन्मभूमि मथुरा और वृंदावन में सभी लोग कृष्ण के रंग में रंग जाते हैं। वैसे तो देशभर में भगवान श्रीकृष्ण के कई मंदिर हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश और दिल्ली के कुछ मंदिरों जन्माष्टमी पर काफी शानदार तरीके से सजावट की जाती है।

प्रेम मंदिर (वृन्दावन) 

prem temple

उत्तर प्रदेश के मथुरा वृन्दावन में स्थित प्रेम मंदिर दूसरा प्रसिद्ध स्थल है। यहां जन्माष्टमी के दिन कई भक्तों की भीड़ उमड़ती है यहां तक की इसकी सजावट इस तरीके से की जाती है जैसे कोई बड़ा त्यौहार। सजावट के तौर पर यहां कई प्रकार की रंग-बिरंगी लाइटों का प्रयोग किया जाता है जिससे वृन्दावन जगमगा जाता है।

Janmashtami 2020: जानें किस दिन है जन्माष्टमी, इन नियमें से करें पुजा कान्हा देंगे मनचाहा वरदान

बांकेबिहारी मंदिर (वृन्दावन) 

bankebihari mandirउत्तर प्रदेश के मथुरा वृन्दावन में स्थित बांकेबिहारी मंदिर पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। इतना ही नहीं यहां का भ्रमण करने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। जन्माष्टमी के पर्व पर यहां सभी भक्तों की तांता लग जाता है और कृष्ण जन्मोत्सव पर इस मंदिर को रंग-बिरंगी लाइट और फूलों से सजाया जाता है।

ISKCON प्रमुख भक्तिचारु महाराज का कोरोना से निधन, अमेरिका में ली अंतिम सांस

छत्तरपुर मंदिर (दिल्ली) 

chhatarpur mandir

छत्तरपुर मंदिर दिल्ली का सबसे पूराना मंदिर है और यहां कृष्ण जन्मोत्सव के दिन मंदिर को बेहद खुबसूरत तरीके से सजाया जाता है। इतना ही नहीं यहां की साज-सजावट से पूरा इलाका जगमगाता है और लोगों की भीड़ से आनंद दोगुना हो जाता है।

माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के पुनर्गठन की तैयारी हुई तेज, बारीदारों को भी मिलेगा प्रतिनिधित्व

इस्कॉन मंदिर (दिल्ली) 

iskcon temple

इस्कॉन मंदिर दिल्ली का सबसे प्रसिद्ध मंदिर माना जाता है। यहां जन्माष्टमी के दिन भव्य तरह से पूजा की जाती है। इतना ही नहीं यहां की साज सजावट से पूरा दिल्ली चकाचौंद हो जाता है। जन्माष्टमी के दिन यहां अनेको भक्त इक्ट्ठा होते हैं और रात के समय भजन गाते हैं और नृत्य करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.