Thursday, Apr 15, 2021
-->
javadekar strict about the web series said rules for ott will be released soon pragnt

वेब सीरीज को लेकर सख्त प्रकाश जावड़ेकर, कहा- जल्द जारी होंगे OTT के लिए नियम

  • Updated on 2/10/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अपने कंटेंट को लेकर अक्सर आलोचकों के निशाने पर रहने वाली बेब सीरीजों (Web Series) में आने वाले दिनों में अश्लीलता, हिंसा और गाली-गलौज नहीं होगी। सरकार ने कहा कि ओटीटी प्लेटफॉर्म के नियमन के लिए जल्द ही दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे जिससे संवेदनशील सामग्री जैसे मुद्दों का समाधान होगा।

रामनगरी अयोध्या को बनाया जाएगा वर्ल्ड क्लास सिटी, कनाडा की कंपनी को मिला जिम्मा

वेब सीरीज पर बोले प्रकाश जावड़ेकर
सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने राज्यसभा (Rajya Sabha) में शून्यकाल के दौरान बताया कि ओटीटी (ओवर द टॉप) प्लेटफार्म पर दिखाई जाने वाली सामग्री को लेकर कई शिकायतें मिल रही हैं और इसके नियमन के बारे में सुझाव भी मिले हैं। इसे एक महत्वपूर्ण विषय बताते हुए जावड़ेकर ने कहा कि इसके संबंध में दिशा-निर्देश तैयार किए जा चुके हैं और जल्द ही उन्हें लागू किया जाएगा।

PM मोदी के 'आंदोलनजीवी' बयान पर भड़के अखिलेश, पूछा- उन्हें क्या कहें जो घर-घर जाकर चंदा ले रहे हैं

ओटीटी पर नहीं दिखाई जा सकेगी आपत्तिजनक सामग्री
इससे पहले भाजपा के महेश पोद्दार ने यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान इंटरनेट बेहद उपयोगी ऑनलाइन मंच के रूप में उभरा है और मनोरंजन के लिए ओटीटी प्लेटफार्म की लोगों तक पहुंच बढ़ी है। उन्होंने कहा, 'लेकिन इसमें दिखाई जाने वाली सामग्री और उसकी भाषा आपत्तिजनक होती है। इस मंच का नियमन किया जाना चाहिए।' पूरी दुनिया में नेटफ्लिक्स, अमेजॅन प्राइम और हॉटस्टार (डिज्नी प्लस) सहित कम से कम 40 ओटीटी प्लेटफॉर्म हैं।

हरदीप पुरी ने मोदी सरकार के खास प्रोजेक्ट सेंट्रल विस्टा के गिनाए फायदे

विवादों से है नाता पुराना
वेब सीरीजों का विवादों से पुराना नाता है। ओटीटी कंटेंट को लेकर आजकल सबसे अधिक विवाद 'तांडव' और 'मिर्जापुर' को लेकर छिड़ा हुआ है। दोनों अमेजन प्राइम वीडियोज की सीरीज हैं। भगवान शिव को दर्शने वाले कुछ दृश्यों पर आपत्ति के बाद निर्माताओं ने सीरीज पर थोड़ी कैंची चलाई थी। दोनों सीरीज का मामला अदालत पहुंच चुका है। वेब सीरीज से जुड़े हर विवाद के साथ ही सेंसरशिप की मांग भी की जाती रही है।

विदाई भाषण में बोले गुलाम, 'मैं वो खुशकिस्मत जो कभी नहीं गया पाकिस्तान'

इन सीरीज पर लगे हैं आरोप
पिछले साल की सबसे चर्चित सीरीजों में शुमार अमेजन प्राइम की 'पाताल लोक' और एमएक्स प्लेयर की 'आश्रम' पर धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करने के आरोप लगे। अल्ट बालाजी की सीरीज 'एक्सएक्सएक्स' के दूसरे सीजन में सेना के प्रतीकों को गलत ढंग से दर्शाने को लेकर विवाद खड़ा हो गया था। इसमें एक दृश्य में सेना की वर्दी का गलत इस्तेमाल दिखाया गया था। अल्ट बालाजी और एकता कपूर को मुकदमे का सामना भी करना पड़ा था। बाद में एकता कपूर ने सेना से माफी मांगी थी।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.