Friday, Apr 23, 2021
-->
jee mains exam will now be in 4 times, examination declared in first session

जेईई मेंस के एग्जाम अब 4 बार में होंगे, पहले सत्र में परीक्षा का ऐलान

  • Updated on 12/17/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने बुधवार को बताया कि जेईई-मेंस परीक्षा साल में चार बार आयोजित होगी और पहले सत्र में इसका आयोजन 23 से 26 फरवरी 2021 तक होगा। 

दिल्ली बार्डरों से किसानों को हटाने संबंधी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब

निशंक ने डिजिटल माध्यम से इसकी जानकारी देते हुए कहा, ‘‘जेईई मेंस परीक्षा का आयोजन साल में चार बार होगा। यह परीक्षा चार सत्रों में फरवरी, मार्च, अप्रैल और मई में आयोजित होगी।’’ उन्होंने बताया कि इसके तहत पहले सत्र में परीक्षा 23 फरवरी 2021 से 26 फरवरी 2021 तक होगी। 

किसान आंदोलन के बीच नहीं होगा संसद का शीतकालीन सत्र, विपक्ष ने उठाए सवाल

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बताया कि यह परीक्षा राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी द्वारा ली जायेगी। यह विभिन्न पालियों में आयोजित की जायेगी। इससे छात्रों को अंक सुधारने में मदद मिलेगी। निशंक ने बताया कि इसमें विभिन्न बोर्डों के निर्णयों को ध्यान में रखा गया है। इसके तहत प्रश्नपत्र में 90 प्रश्न होंगे। 

किसान आंदोलन के बीच महंगाई की मार : रसोई गैस सिलेंडर के दामों में फिर इजाफा

उन्होंने बताया कि एनटीए ने तय किया है कि अभ्र्यिथयों को इनमें 75 प्रश्नों के उत्तर देने होंगे। 15 वैकल्पिक प्रश्न होंगे। मंत्री ने बताया कि परीक्षा का आयोजन 13 भाषाओं में होगा। उन्होंने दावा किया कि यह विश्व की सबसे बड़ी परीक्षा होगी। 

शुभेंदु अधिकारी ने TMC विधायक पद से दिया इस्तीफा, भाजपा से खफा ममता

इससे पहले मंत्री ने बताया कि शिक्षा मंत्रालय ने जेईई-मेंस को लेकर मिले सुझावों की समीक्षा की है और एनटीए को इन सुझावों पर सकारात्मक ढंग से विचार करने को कहा गया है। इन सुझावों को ध्यान में रखते हुए महत्वपूर्ण निर्णय किये गए हैं।  

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.