Tuesday, Jun 18, 2019

‘JNU प्रवेश परीक्षा का प्रश्नपत्र व्हाट्सअप पर हुआ लीक’, प्रशासन पर सवालिया निशान

  • Updated on 6/6/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) की प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam)  में प्रश्नपत्र लीक होने का मामला सामने आया है। इस मामले के सामने आने के बाद यूनिवर्सिटी प्रशासन पर बड़े सवालिया निशान लगाए जा रहे हैं।

व्हाट्सअप पर प्रश्नपत्र हुआ लीक

जेएनयू के स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज (School of International Studies)  के छात्र विष्णु प्रसाद ने दावा किया है कि 28 मई 2019 को आयोजित प्रवेश परीक्षा क्लस्टर एक के प्रश्न पत्र (question paper) की कॉपी उत्तर सहित व्हाट्सअप पर साझा की गई है.

नेहरू प्लेस और बदरपुर के बीच मेट्रो सेवाओं में देरी

जांच की मांग

छात्रों की मांग है कि जेएनयू के वाइस चांसलर मामले की गंभीरता से जांच करें। वहीं इस पूरे मामले को लेकर जेएनयू छात्रसंघ ने वीसी के इस्तीफे की मांग की है।

‘नेशनल टेस्टिंग एजेंसी हुई असफल’

छात्रसंघ का कहना है कि कई दशकों में ऐसा पहली बार हुआ है कि प्रवेश परीक्षा का कोई प्रश्नपत्र इतने बड़े स्तर पर लीक हुआ हो। प्रवेश परीक्षा नेशनल टेस्टिंग एजेंसी से करवाने की पहल को जेएनयू छात्रसंघ ने असफल बताया है।

नितिन गडकरी- दो महीने में तैयार हो जाएगा दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे

मामले पर प्रशासन ने साधी चुप्पी

स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज के छात्र ने जेएनयू के वाइस चांसलर प्रो. एम. जगदीश कुमार को खत लिखकर प्रवेश परीक्षा का प्रश्नपत्र लीक होने की जानकारी दी। इस पूरे मामले को लेकर जेएनयू प्रशासन के अधिकारी कुछ भी बोलने से बचते नजर आए.

दिल्ली NCR : जल्द शुरु होगी यौन उत्पीड़न की ऑनलाइन शिकायत सुविधा, अपराधों पर लगेगी लगाम

‘जेएनयू की छवि होगी खराब’

छात्र का कहना है कि नियम के अनुसार परीक्षा केंद्र में कोई कागज या दस्तावेज ले जाने की अनुमति तक नहीं हैं। वहां व्हाट्सअप पर प्रश्न पत्र लीक होने की घटना जेएनयू प्रशासन की छवि खराब करने का काम कर रही है। प्रशासन को इस मामले की जल्द से जल्द गंभीरता से जांच करनी चाहिए।  
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.