Sunday, Jan 19, 2020
jnu student protest fee hike connaught place

JNU: 50 प्रतिशत छूट से संतुष्ट नहीं छात्र, पूरी फीस वृद्धि को वापस लेने की मांग पर आज फिर प्रदर्शन

  • Updated on 11/27/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। जेएनयू (JNU) में फीस बढ़ोतरी को लेकर छात्रों का प्रदर्शन (Student Protest) लागातर जारी है। इसी क्रम में आज जेएनयू के छात्र कनॉटप्लेस (Connaught Place) पर मानव श्रंख्ला बनाकर विरोध प्रदर्शन करेंगे। हालांकि प्रशासन ने इस विरोध से पहले छात्रों का राहत देने का फैसला करते हुए सभी छात्रों को 50 प्रतिशत और बीपीएल (BPL Card) धारकों को 75 प्रतिशत की छूट देने का फैसला किया है, लेकिन छात्र अपनी मांग पर अड़े हुए हैं। 

छात्रों की मांग है कि बढ़ी हुई फीस के फैसले को पूरी तरह से वापस लिया जाना चाहिए। बता दें कि माकपा महासचिव सीताराम येचुरी और पोलित ब्यूरो सदस्य प्रकाश करात समेत जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (JNUSU) के पूर्व अध्यक्षों ने हॉस्टल फीस में बढ़ोतरी को वापस लेने की मांग कर रहे छात्रों के प्रति एकजुटता दिखाते हुए इंडियन वुमन प्रेस क्लब में 27 यानी आज के विरोध प्रदर्शन में देश के छात्रों से शामिल होने की अपील की थी।

इसके अलावा जेएनयू के पूर्व अध्यक्षों ने दिल्ली हाइकोर्ट से छात्रों के साथ हुई बर्बरता पर सीमित समय में जांच कराने की अपील की थी। साथ ही जीडीपी का 6 फीसद शिक्षा पर खर्च करने की मांग भी की गई थी। 

JNU में सभी छात्रों को बढ़ी हुई फीस से राहत, जानें अब देना होगा कितना पैसा

'प्रदर्शन को ‘वाम बनाम भाजपा’ के मुद्दे के रूप में न देखें'
सीताराम येचुरी ने कहा था कि ऐसा नहीं है कि प्रशासन ने पहले छात्र संघ के खिलाफ कुछ नहीं किया। इमरजेंसी के समय इंदिरा गांधी जेएनयू की चांसलर थीं। छात्र इमरजेंसी में हुए अत्याचार को लेकर इंदिरा गांधी के घर तक गए थे विरोध जताने। उन्होंने इस विरोध प्रदर्शन को ‘वाम बनाम भाजपा’ के मुद्दे के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए।

JNU फीस बढ़ोतरी: HRD समीति ने की BPL धारकों को 75 प्रतिशत छूट देने की सिफारिश

'JNU छात्र हमेशा देश से जुड़े मुद्दों पर प्रदर्शन करते आए'
येचुरी ने कहा था कि जेएनयू के छात्र हमेशा से देश से जुड़े मुद्दों को लेकर प्रदर्शन करते आए हैं। इस बार प्रशासन छात्रों के साथ जिस तरह से पेश आया उन तौर तरीकों को लेकर भी चिंता जाहिर की। उन्होंने छात्रों के साथ एकजुटता दिखाते हुए आज यानी 27 को मनाए जा रहे राष्ट्रव्यापी विरोध दिवस में देश के विवि. के छात्रों से शामिल होने की अपील की थी।

comments

.
.
.
.
.