Thursday, Jun 30, 2022
-->
JNU students will clean Chandrabhaga lake

जेएनयू की चंद्रभागा झील की छात्र करेंगे सफाई

  • Updated on 5/24/2022

नई दिल्ली/पुष्पेंद्र मिश्र। 1100 एकड़ में फैला जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) पूरी तरह से हरा भरा है। हरियाली से पूर्ण इस विश्वविद्यालय की शोभा यहां स्थित चंद्रभागा झील और बढ़ा देती है। एक समय ये झील इतनी मनोरम थी कि छात्रों को सुबह-शाम सैर करते देखा जा सकता था लेकिन अब इस झील में पक्षी पानी भी नहीं पी पाते हैं। क्योंकि सीवर का पानी, जलकुंभी व घास उग आने के कारण  झील खरपतवार से ढक गई है। साथ ही यह दूषित पानी जानवरों और पशु पक्षियों के पीने योग्य भी नहीं है। विवि. की 5 अन्य झीलें भी सूख चुकी हैं। 

देश के साढ़े 6 लाख गांवों की होगी कल्चरल मैपिंग : डॉ. सच्चिदानंद जोशी

झील का ईकोसिस्टम सीवर के पानी, जलकुंभी, खरपतवार और कूड़ा कचरा डालने से हो गया है खराब 
इसी कारण विवि. के पर्यावरण स्कूल के छात्र, भाषाई स्कूल के छात्र व एसएफडी संगठन ने यह निश्चय किया है। कि इस झील को अब निशांत, स्वास्तिक, दीपिका व चेतन आदि छात्रों द्वारा साफ किया जाएगा। इसकी सारी जलकुंभी निकालकर झील के इकोसिस्टम को फिर से पहले की तरह बनाया जाएगा। छात्रों का कहना है कि एक बार झील की सफाई हो जाए तो सभी जानवर, पक्षी यहां आकर गर्मी में पानी पी सकेंगे। साथ ही झील के इकोसिस्टम में पक्षियों के आने से यहां का दृश्य भी मनोरम हो जाएगा।

 

comments

.
.
.
.
.