Sunday, Feb 05, 2023
-->
jnu-to-prepare-database-for-jobs-abroad

विदेश में नौकरी के लिए जेएनयू तैयार करेगा डेटावेस

  • Updated on 8/20/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। ऐसे अभ्यर्थी जो विदेशों में नौकरी की तलाश में रहते हैं। उनकी मदद के लिए जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय(जेएनयू) एक  प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराएगा। जेएनयू ऐसे अभ्यर्थियों की मदद के लिए एक उत्कृष्ठता केंद्र (सेंटर ऑफ एक्सीलेंस) शुरू करने जा रहा है। जहां जेएनयू में अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन संस्थान के पीएचडी स्कॉलर्स डिजिटल सर्वे करेंगे। जिसमें वह कौशल, संबंधित आर्थिक व क्षेत्रीय कौशल आवश्यकताओं का पता लगाएंगे।

अभ्यर्थियों की मदद के लिए विवि. में शुरू होगा सेंटर फॉर एक्सीलेंस
यह उत्कृष्ठता केंद्र प्रवास के लिए अंतर्राष्ट्रीय केंद्र और विदेश मंत्रालय के सहयोग से विकसित किया जाएगा।
जेएनयू के एक प्रोफेसर ने कहा कि यह केंद्र डिजिटल सर्वे के जरिए भारत में विदेशी कंपनियों की स्थिति भी परखेगा और विदेश में भारतीयों के लिए अवसरों की तलाश करेगा।

विदेशों में एसआईएस के 15 सेंटर साबित होंगे मददगार 
इसके जरिए एक ऐसा डेटावेस तैयार किया जाएगा। जो विदेश में नौकरी चाहने वाले अभ्यर्थियों को अवसर प्रदान करेगा। विवि. के रेक्टर अजय कुमार दुबे ने कहा कि जेएनयू के अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन संस्थान के विदेशों में 15 सेंटर हैं। ये केंद्र विदेश मंत्रालय द्वारा प्रस्ताव पर आगे बढऩे के साथ ही कार्य करना प्रारंभ कर देंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.