Tuesday, Dec 01, 2020

Live Updates: Unlock 7- Day 1

Last Updated: Tue Dec 01 2020 08:34 AM

corona virus

Total Cases

9,463,254

Recovered

8,888,595

Deaths

137,659

  • INDIA9,463,254
  • MAHARASTRA1,823,896
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA883,899
  • TAMIL NADU780,505
  • KERALA599,601
  • NEW DELHI566,648
  • UTTAR PRADESH543,888
  • WEST BENGAL526,780
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA318,725
  • TELANGANA268,418
  • RAJASTHAN262,805
  • BIHAR235,616
  • CHHATTISGARH234,725
  • HARYANA232,522
  • ASSAM212,483
  • GUJARAT206,714
  • MADHYA PRADESH203,231
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB151,538
  • JAMMU & KASHMIR109,383
  • JHARKHAND104,940
  • UTTARAKHAND74,340
  • GOA45,389
  • HIMACHAL PRADESH38,977
  • PUDUCHERRY36,000
  • TRIPURA32,412
  • MANIPUR23,018
  • MEGHALAYA11,269
  • NAGALAND10,674
  • LADAKH7,866
  • SIKKIM4,967
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,631
  • MIZORAM3,806
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,325
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
judge withdraws hearing of bank fraud case against owners of sterling biotech rkdsnt

स्टर्लिंग बायोटेक के मालिकों के खिलाफ बैंक फ्रॉड केस की सुनवाई से हटे न्यायाधीश

  • Updated on 9/22/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। गुजरात (Gujarat) स्थित स्टर्लिंग बायोटेक समूह (Sterling Biotech) के मालिकों और अन्य के खिलाफ 8100 करोड़ रुपये के बैंक कर्ज धोखाधड़ी मामले (Bank loan fraud case) की सुनवाई कर रहे एक अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश इस मामले से यह कहते हुए अलग हो गए कि एक पक्ष ने उनसे संपर्क किया था।

NGO के पंजीकरण के लिए पदाधिकारियों के Aadhaar नंबर होंगे जरूरी

न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा ने कहा कि वह स्तब्ध थे कि उनके एक सहपाठी ने एक आरोपी की ओर से उनसे संपर्क किया था। उन्होंने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण’’ करार दिया। उन्होंने स्टर्लिंग बायोटेक से संबंधित सभी मामले जिला न्यायाधीश को भेज दिये हैं जो संभवत: इन मामलों को किसी और न्यायाधीश को सौंपेंगे।

संजय सिंह समेत राज्यसभा के 8 सदस्य निलंबित, नायडू ने अविश्वास प्रस्ताव नामंजूर किया

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की तरफ से पेश हुए अतिरिक्त सॉलीसीटर जनरल एस वी राजू और ईडी के विशेष अभियोजक नीतेश राणा को बताया, 'मेरी इस मामले को आगे बढ़ाने की इच्छा नहीं है। यह बेहद शर्मिंदा करने वाला है और मैं इस मामले से खुद को अलग कर रहा हूं तथा मामले को जिला न्यायाधीश के सामने रख रहा हूं। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि पूरे मामले की सुनवाई के बाद मुझे इससे अलग होना पड़ रहा है।' 

IPL 2020 : रोहित शर्मा की कप्तानी के कायल हैं गेंदबाज बुमराह

न्यायाधीश को प्रवर्तन निदेशालय द्वारा दायर उस आवेदन पर आदेश पारित करना था जिसमें नए कानून के तहत कंपनी के मालिकों को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने की मांग की गई थी। ईडी ने भगोड़ा आर्थिक अपराधी अधिनियम की धारा चार के तहत नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा, दीप्ति संदेसरा और हितेश पटेल को भगोड़ा घोषित करने के लिये अदालत में याचिका दायर की थी।  

केजरीवाल सरकार ने बताया -दिल्ली के अस्पतालों में कितने फीसदी कोरोना मरीज बाहर के हैं?

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.