Sunday, Apr 18, 2021
-->
kanhaiya kumar toolkit case disha ravi sohsnt

दंगाइयों का समर्थन करती दिशा रवि तो शायद मंत्री-सीएम या PM बन जाती- कन्हैया कुमार

  • Updated on 2/17/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। टूलकिट मामले (Toolkit Case) को लेकर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) रोज नए और चौंका देने वाले खुलासे कर रही है, तो वहीं इस मामले पर सियासी घमासान भी तेज हो गया है। ऐसे में जेएनयू के पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने टूलकिट मामले में गिरफ्तार पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि का जिक्र करते हुए बिना नाम लिए मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा, दिशा रवि ने किसानों के समर्थन में आकर बड़ी गलती कर दी।

किसान आंदोलन: सिंधु बॉर्डर पर प्रदर्शनकारी ने किया SHO पर जानलेवा हमला


कन्हैया कुमार ने ट्वीट कर कही ये बात
कन्हैया कुमार ने ट्वीट कर लिखा, 'दिशा रवि ने किसानों का समर्थन करके गलती कर दी। दंगाइयों का समर्थन करती तो शायद मंत्री, मुख्यमंत्री या क्या पता प्रधानमंत्री ही बन जाती। 

पुडुचेरी: अल्पमत में कांग्रेस सरकार, 4 MLA ने दिया इस्तीफा, जानें विधानसभा का हाल

कन्हैया कुमार की बढ़ सकती हैं मुश्किलें
उधर, दिल्ली की पटियाला हाउस अदालत ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में 9 फरवरी 2016 को देश विरोधी नारेबाजी के सिलसिले में छात्र नेता व जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार को देशद्रोह के मामले को लेकर अगले महीने की 15 मार्च को तलब किया है।

LG के पद से हटाए जाने के बाद किरण बेदी ने किया भारत सरकार का धन्‍यवाद

जेएनयू कैंपस में देशद्रोही नारे लगाने का आरोप
बता दें कि कन्हैया कुमार समेच सभी 10 आरोपियों पर इंडियन पेनल को कोड की धारा 124A, 323, 465,471, 143, 149, 147, 120B के तहत चार्जशीट दायर किया गया है। मंगलवार को कन्हैया कुमार समेत 10 लोगों के खिलाफ चार्जशीट पर संज्ञान लेते हुए पटियाला हाउस अदालत के जज डॉ. पंकज शर्मा ने कहा कि पिछले साल 27 फरवरी को दिल्ली पुलिस के गह विभाग ने चार्जशीट दायर करने की इजाजत दे दी थी। चार्जशीट को संज्ञान में लेते हुए सभी आरोपियों को 15 मार्च 2021 को पेश होने के लिए समन जारी किया गया है। दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में दावा किया है कि अफजल गुरु की बरसी पर कन्हैया कुमार के नेतत्व में जेएनयू कैंपस में देशद्रोही नारे लगे थे।

ये भी पढ़ें:

comments

.
.
.
.
.