Friday, May 14, 2021
-->
kapil mishra fired on yogendra yadav and rakesh tikait delhi tractors parade voilence rkdsnt

दिल्ली दंगों में चर्चा में रहे कपिल मिश्रा ने योगेंद्र यादव और राकेश टिकैत पर निकाली भड़ास

  • Updated on 1/26/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पिछले साल उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों के दौरान चर्चा में बने रहने वाले भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने किसान आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाले स्वराज इंडिया के योगेंद्र यादव और किसान नेता राकेश टिकैत पर अपनी भड़ास निकाली है। कपिल ने किसान आंदोलन के ट्रैक्टर परेड के दौरान उपद्रव करने लिए दोनों को आड़े हाथ लिया है।

 किसान ट्र्र्रैक्टर परेड में हिंसा: कई जगह इंटरनेट सर्विस बंद, अमित शाह ने बुलाई हाई लेवल मीटिंग

किसान ट्रैक्टर परेड में हिंसा: कांग्रेस के बाद शिवसेना ने मोदी सरकार पर बोला हमला

किसान परेड में हिंसा फैलाने और लाल किले पर उपद्रव करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने की मांग करते हुए कपिल मिश्रा ने यादव और टिकैट को जेल में डालने की मांग की है। उन्होंने ट्विटर पर वीडियो जारी करते हुए कहा कि ये खालिस्तानियों और नक्सलियों वाले लोग हैं। अपने ट्वीट में वह लिखते हैं, 'आतंकवादी संगठन "सिख फ़ॉर जस्टिस" ने दो हफ्ते पहले खुलेआम एलान किया था लाल किले पर खालिस्तानी झंडा लहराने का आतंकियों ने एलान करके लाल किले पर खालिस्तानी झंडा फहरा दिया, ये आज़ाद भारत के सबसे शर्मनाक दिनों में से एक'।

 आचार्य प्रमोद का तंज-  लाल किले का इतना “अपमान” तो किसी “कमजोर” PM के दौर में भी नहीं हुआ

अपने दूसरे ट्वीट में कपिल ने लिखा, 'अगर आज के बाद भी योगेन्द्र यादव जेल में नहीं डाला जाता, राकेश टिकैत का भूत नहीं उतारा जाता, अगर अब भी ये दिल्ली की सड़कें बंद करके धरने की नौटंकी चालू रखते हैं तो इतिहास हमें कभी माफ नहीं करेगा।"

योगेंद्र यादव ने आंदोलित किसानों से की शांति की अपील

इसके साथ ही उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर भी निशाना साधा है और उनसे माफी मांगने की मांग की है। बकौल कपिल, 'योगेन्द्र यादव और राकेश टिकैत जैसे लोगों को तुरंत जेल में डाला जाना चाहिए, केजरीवाल और राहुल गांधी को दिल्ली वालों से माफी मांगनी होगी,ये किसान नहीं खालिस्तानी और नक्सली हमला हैं दिल्ली पर #DelhiUnderAttack। इससे पहले वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने कपिल का एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें उनके दौगलेपन को उजागर किया गया था।

किसान संसद' में किसानों ने सरकार को चेताया- नहीं होने देंगे एक भी किसान की कुर्की

बता दें कि कपिल मिश्रा आम आदमी पार्टी के नेता थे, लेकिन उन्होंने केजरीवाल और सतेंद्र जैन पर रिश्वत लेने का आरोप लगाया था। बाद में वह भाजपा में शामिल हो गए। विधानसभा चुनाव में उन्हें टिकट मिला, लेकिन उन्हें मुंह की खानी पड़ी। हाल ही में कोर्ट में कपिल को अपने आरोपों के लिए माफी भी मांगनी पड़ी। दिल्ली दंगों के दौरान भी वह सुर्खियों में रहे। विपक्ष का आरोप है कि उनके भड़काऊ भाषण के बाद दिल्ली में दंगे भड़क गए थे। 

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.