Friday, Feb 28, 2020
kapil mishra slams on rahul gandhi asking benefit of pulwama attack 2019

पुलवामा पर राहुल गांधी के सवालों से भड़के कपिल मिश्रा, राजीव-इंदिरा की हत्या पर पूछा ये सवाल

  • Updated on 2/14/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पुलवामा हमले (Pulwama Attack) में शहीद हुए जवानों को आज पूरा देश नमन कर रहा है। वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने पुलवामा हमले को लेकर सावल उठाया है कि इस हमले से किसको लाभ हुआ। इस पर दिल्ली बीजेपी नेता कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) ने राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा है कि अगर इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की हत्या का लाभ किसे हुआ ये आप से पूछा जाए तो क्या बोलोगे? 

दरअसल राहुल गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा था कि आज जब हम #PulwamaAttack में हमारे 40 CRPF शहीदों को याद कर रहे हैं, तो हमें पूछें:

  1. हमले से सबसे ज्यादा किसे फायदा हुआ?
  2. हमले में जांच का परिणाम क्या है?
  3. बीजेपी सरकार में से किसने अभी तक हमले की अनुमति देने वाली सुरक्षा चूक के लिए जवाबदेह ठहराया है?

इंदिरा राजीव की हत्या से किसको हुआ लाभ- कपिल मिश्रा 
राहुल गांधी के इस सवाल पर कपिल मिश्रा तिलमिला गए। उन्होंने गांधी पर पलटवार करते हुए ट्वीट किया कि शर्म करो राहुल गांधी। पूछते हो पुलवामा हमले से किसका फायदा हुआ? अगर देश ने पूछ लिया कि इंदिरा राजीव की हत्या से किसका फायदा हुआ, फिर क्या बोलोगे? इतनी घटिया राजनीति मत करो शर्म करो।  

#Pulwama Attack में शहीद हुए जवानों को पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि, कहा नहीं भूलेंगें बलिदान

देश को गुमराह करने वाली पार्टी
वहीं राहुल गांधी के इस ट्वीट पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि जो राष्ट्रीय सुरक्षा, राष्ट्रीय हितों से जुड़े हुए मुद्दे हैं, संवेदनशील मुद्दे हैं, उन पर कांग्रेस राजनीति करने की, देश को गुमराह करने की हिस्ट्रीशीटर पार्टी है।

पुलवामा का बदलाः Air Strike से पाकिस्तान को दिया कभी न भूलने वाला जख्म

इस्लामी आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद ने कराया था हमला
बता दें कि साल 2019 में 14 फरवरी के दिन जम्मू- कश्मीर के पुलवामा (Pulwama) जिले के लीथोपोरा में सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों पर आत्मघाती हमला हुआ था। इस हमले में हमारे 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित इस्लामी आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इस हमले को अंजाम देने वाला पुलवामा का लोकल लड़का था। 

Pulwama Attack: तीन दशकों का सबसे बड़ा आत्मघाती हमला, जब दहल गया था देश

आदिल अहमद डार ने किया था आत्मघाती हमला
पुलवामा को अंजाम देने वाले आतंकवादी का नाम आदिल अहमद डार था। इसकी उम्र महज 20 साल थी। ये इस्लामी आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा हुआ था। सीआरपीएफ के काफिले की बस से विस्फोटक से भरी एक गाड़ी को इसी आतंकवादी ने टक्कर मारी थी। ये हमला तीन दशकों में हुआ सबसे बड़ा आत्मघाती हमला था। इस हमले की खबर से पूरा देश दहल गया था। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.