Saturday, Jul 24, 2021
-->
kareena kapoor khan troll on social media george floyd story anjsnt

अश्वेत व्यक्ति की मौत पर पोस्ट करने पर ट्रोल हुईं करीना कपूर खान, यूजर्स ने कहा ये

  • Updated on 6/3/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अमेरिका में अश्वेत नागरिक की मौत के मामले ने कुछ ऐसे तूल पकड़ा की लगभग 20 शहरों में लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। जिसमें कुछ  लोग दुकानों को लूट रहे हैं तो कुछ लोग आगजनी भी कर रहे हैं। ऐसे में पूरे विश्व में इस मामले को लेकर कैंपेन शुरु हो गया है।

इसी कैंपेन के तहत बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर खान ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया है जिसमें उऩ्होंने लिखा- सभी रंग खूबसूरत होते हैं। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

💔 #JusticeForGeorgeFloyd

A post shared by Kareena Kapoor Khan (@kareenakapoorkhan) on May 27, 2020 at 10:41pm PDT

उनका ये पोस्ट शायद कुछ यूजर्स को बिल्कुल भी पंसद नहीं आया है और उन्होंने करीना कपूर खान को ट्रोल करना शुरु कर दिया। एक यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा कि फिर आप गोरपन का विज्ञापन क्यों करती हैं।

बाज नहीं आ रहा चीन, अब POK में लगाने जा रहा बड़ा पावर प्रोजेक्ट


इन सितारों किया समर्थन
 फ्लॉयड की दर्दनाक मौत के बाद हॉलीवुड स्टार्स जैसे बियॉन्से, कार्डी बी, टेलर स्विफ्ट, जॉन बोयेगा, जॉन चीडो, स्टीव कोरैल, निक जोनस, प्रियंका चोपड़ा, रिहाना, बेला हदीद और जैनेल मौने जैसे सेलिब्रिटीज भी इंसाफ की मांग कर रहे हैं।

पुलिस अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज
इस मामले में गवर्नर टिम वाल्ज़ और मिनेसोटा डिपार्टमेंट ऑफ ह्यूमन राइट्स ने मंगलवार दोपहर शिकायत दाखिल करने की घोषणा कर दी। फ्लॉयड की मौत के बाद अमेरिका में कई जगह हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए। जिसके बाद अधिकारी डेरेक चाउविन को थर्ड डिग्री हत्या और दूसरी डिग्री की हत्या के आरोप में पुलिस विभाग से निकाल दिया गया है।

अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति फ्लॉयड की मौत पर हिंसा तेज, मिनियापोलिस पुलिस के खिलाफ शिकायत दर्ज

इसके साथ ही उस समय शामिल तीनों अधिकारियों को भी निकाल दिया गया है, लेकिन इन सब पर कोई आरोप नहीं लगाया गया था। बाद में गवर्नर ने कहा कि यह एक गंभीर मुद्दा है इस मामले में आप राज्य के राज्य के मानवाधिकार आयुक्त रेबेका लुसेरो जांच का नेतृत्व करेंगे।

योगी सरकार ने कोरोना की कसी नकेल, रिकवरी रेट पहुंचा 59.51 फीसदी

समझौते की मांग
इस मामले में लुसेरो का विभाग मिनियापोलिस शहर के नेताओं और पुलिस विभाग से अंतरिम उपायों को लागू करने के लिए समझौते की मांग करेगी। इसके साथ ही प्रणाली का भेदभाव को दूर करने के लिए दीर्घकालीन उपाय पर चर्चा होगी। इसके अलावा एफबीआई इस बात की भी जांच कर रही है कि क्या पुलिस ने फ्लॉयड को उसके नागरिक अधिकारों से वंचित किया है।

बता दें कि अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पुलिस डिपार्टमेंट के खिलाफ हिंसक विरोध प्रदर्शन जारी है। देश के कई बड़े शहर हिंसा की आग में झुलस रहा है और इसमें हजारों लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.