Tuesday, Nov 19, 2019
karnataka 10 rebel mlas adjourned for speaker on hearing of sc

कर्नाटक : SC के आदेश पर 10 बागी विधायकों ने स्पीकर को सौंपे इस्तीफे, याचिका पर सुनवाई आज

  • Updated on 7/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कर्नाटक का सियासी संकट अब खत्म होने के नजदीक है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर 10 बागियों ने मुंबई से बेंगलुर पहुंचकर स्पीकर आर. रमेश कुमार से मुलाकात की और उन्हें नए सिरे से अपने इस्तीफे सौंप दिए हैं। कोर्ट ने स्पीकर को इन इस्तीफों पर शुक्रवार को रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है। नए सिरे से इस्तीफे मिलने के बाद स्पीकर ने कहा कि वे यह देखेंगे कि इन सदस्यों ने दबाव में तो यह कदम नहीं उठाया है।

Image result for कर्नाटक : SC के आदेश पर 10 बागी विधायकों ने स्पीकर को सौंपे इस्तीफे

स्पीकर ने बताया कि जिन विधायकों के इस्तीफे निर्धारित प्रारूप में नहीं थे, वे अब सही प्रारूप में प्राप्त हो गए हैं। वह परखेंगे कि इस्तीफे स्वेच्छा से दिए गए हैं और प्रामाणिक हैं। स्पीकर ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश की परवाह न करते हुए कहा कि तत्काल फैसला लेने से इन्कार किया और कहा कि उनसे यह उम्मीद नहीं की जानी चाहिए कि वह बिजली की गति से काम करें।

स्वेच्छा से दिए गए हैं अथवा नहीं
रमेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि विधायक मुझसे मिलने आए थे। उन्होंने कहा कि वे इस्तीफा देना चाहते हैं। मैंने कहा कि वे दे सकते हैं, उन्होंने मुझसे उन्हें स्वीकार करने के लिए कहा। यह ऐसे नहीं हो सकता क्योंकि मुझे देखना पड़ेगा कि वे प्रामाणिक हैं या नहीं, स्वेच्छा से दिए गए हैं अथवा नहीं।' उन्होंने जोर देकर कहा कि वह नियमों के मुताबिक फैसला करेंगे। इसके अलावा पूरी कार्यवाही की वीडियोग्राफी कराई है जिसकी रिकॉर्डिग सुप्रीम कोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल को भेजी जाएगी।

Image result for कर्नाटक : SC के आदेश पर 10 बागी विधायकों ने स्पीकर को सौंपे इस्तीफे

उन्होने कहा कि वह ताजा राजनीतिक हालात के लिए जिम्मेदार नहीं हैं और न ही उसके निष्कर्ष के लिए। हालांकि मुलाकात से पहले उन्होंने कहा था कि विधायकों के सुप्रीम कोर्ट पहुंचने से स्थिति 'संदेहास्पद' प्रतीत हो रही है। उनका कहना था कि विधायकों को उन्होंने कभी कार्यालय आने से नहीं रोका। उन्हें नहीं पता कि वे उनसे मिलने के लिए सुप्रीम कोर्ट क्यों गए।

अर्जी पर आज सुनवाई
बागियों को स्पीकर के समक्ष पेश होने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश के कुछ घंटों बाद रमेश कुमार ने इस्तीफों की जांच के लिए ज्यादा मोहलत मांगी लेकिन कोर्ट ने नहीं दी। स्पीकर के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि इस्तीफों पर विचार में दिनभर का वक्त लगेगा, थो़ड़ा ज्यादा समय दिया जाए। कोर्ट ने कहा कि आदेश दिया जा चुका है। अब उनकी याचिका पर शुक्रवार को बागियों की याचिका के साथ सुनवाई की जाएगी।

अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने के लिए तैयार 
सत्तारूढ़ कांग्रेस-जदएस गठबंधन के 16 बागी विधायकों के इस्तीफे से संकट में घिरी कुमारस्वामी सरकार विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने के लिए तैयार है। गुरुवार को कैबिनेट बैठक के बाद मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने विश्वास जताया कि उनकी सरकार बनी रहेगी।


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.