Wednesday, Feb 19, 2020
karnataka assembly by elections bs yeddyurappa bjp led won 6 seats congress jds accept defeat

कर्नाटक उपचुनाव: भाजपा ने लहराया जीत का परचम, 15 में 12 सीटों पर कब्जा

  • Updated on 12/9/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। सत्तारूढ़ भाजपा (BJP) ने कर्नाटक (Karnataka) में 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में सोमवार को 12 सीटों पर जीत दर्ज की, जबकि 2 सीटों पर कांग्रेस और 1 सीट पर निर्दलीय का कब्जा। विपक्षी दल कांग्रेस (Congress) और जेडीएस (JDS) के लिए ये नतीजे बहुत बड़ा झटका हैं। वहीं इस परिणाम से हताश कर्नाटक विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष सिद्धारमैया ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

पूर्व के चुनाव में इन 15 सीटों में से 12 सीटें जीतने वाली कांग्रेस केवल दो निर्वाचन क्षेत्रों हुनसुर और शिवाजीनगर पर ही सिमट कर रह गई है। पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा (H. D. Deve Gowda) के नेतृत्व वाली जेडीएस उन सभी 12 सीटों पर हार गई है जहां उसने अपने उम्मीदवार खड़े किए थे। पूर्व में हुए चुनाव में उसके पास तीन सीटें थीं। होसकोटे से निर्दलीय उम्मीदवार शरथ बच्चेगौड़ा जीत हासिल की।

हमने काफी खराब प्रदर्शन किया: कांग्रेस
नतीजों से हैरान एक कांग्रेस नेता ने नाम न बताने की शर्त पर कहा, "हमने काफी खराब प्रदर्शन किया।" भाजपा को सदन में बहुमत में बने रहने के लिए कम से कम छह सीटों पर जीत की जरूरत है। भाजपा उम्मीदवार अराबैल शिवराम हेब्बार ने येल्लापुर से कांग्रेस के भीमण्ण नाइक को 31,400 से अधिक मतों से हराया। मांड्या जिले में वोक्कालिंगा के गढ़ में भाजपा के लिए पहली जीत दर्ज कराकर इतिहास रचते हुए उसके उम्मीदवार नारायण गौड़ा ने जेडीएस के बी एल देवराज को 9,700 से अधिक मतों से हराया।

झारखंड में PM मोदी ने कर्नाटक चुनाव रिजल्ट को लेकर कांग्रेस-JDS पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री ने 13 सीटों पर किया था जीत का दावा
भाजपा के हीरेकेरूर से उम्मीदवार बी सी पाटिल और कागवाड से श्रीमंत पाटिल ने क्रमश: 29,194 और 16,202 मतों से जीत दर्ज की। उधर, येदियुरप्पा ने दावा किया था कि राज्य में 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा को 13 सीटें मिलेगीं, जबकि शेष 2 सीटें कांग्रेस और जेडीएस को जाएगी। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी अगले साढ़े 3 साल तक राज्य का पूर्ण विकास करेगी। 

शिया बोर्ड भी देश में NRC लागू करने के खिलाफ, मोदी सरकार से की अपील

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि विपक्षी कांग्रेस और जेडीएस सुचारू रूप से प्रशासन चलाने में उनकी मदद करेंगे। येदियुरप्पा ने यह भी कहा कि भाजपा की सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी और अगले विधानसभा चुनाव में कम से कम 150 सीटें जीतकर फिर से सत्ता में वापसी करेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस विपक्ष में ही रहेगी। कांग्रेस और जेडीएस के 17 बागी विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने से खाली हुई सीटों को भरने के लिए 15 सीटों पर उपचुनाव हुआ था।

 

comments

.
.
.
.
.