Tuesday, Dec 10, 2019
karnataka episode congress say nationwide agitations against political purchase by bjp

कर्नाटक प्रकरण : कांग्रेस बोली, खरीद-फरोख्त के खिलाफ होगा राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन

  • Updated on 7/23/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कर्नाटक विधानसभा में एचडी कुमारस्वामी नीत सरकार का विश्वास प्रस्ताव गिरने के बाद कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि भाजपा ने‘अनैतिक ढंग’से भले ही संख्या के मामले में बढ़त हासिल कर ली, लेकिन उसे और सहयोगी जद(एस) को नैतिक जीत मिली है। पार्टी के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने यह भी कहा कि कांग्रेस भाजपा की इस‘‘राजनीतिक खरीद-फरोख्त‘’के खिलाफ अब देशभर में प्रदर्शन करेगी।  

जम्मू कश्मीर : अलगाववादियों के बाद कुछ कारोबारी भी NIA के निशाने पर

कांग्रेस के कर्नाटक प्रभारी ने ट्वीट कर कहा,‘‘कर्नाटक में भाजपा द्वारा सरकार गिराना देश में अब तक की सबसे जघन्य राजनीतिक खरीद-फरोख्त है। यह केंद्र सरकार, राज्यपाल, महाराष्ट्र सरकार और भाजपा नेतृत्व द्वारा मिलकर किया गया।‘‘ उन्होंने कहा, 'हमारे जो विधायक पार्टी के साथ खड़े रहे और जिन कार्यकर्ताओं ने राजनीतिक नैतिकता को बरकरार रखने की लड़ाई लड़ी वो बड़े सम्मान के हकदार हैं।'

DDA आवास योजना 2019: फ्लैटों की संख्या में कटौती, निकाला गया ड्रॉ

वेणुगोपाल ने दावा किया,‘‘भाजपा सदन में भले ही संख्या के मामले में भारी पड़ी, लेकिन कांग्रेस और जद(एस) ने नैतिक जीत हासिल की।' उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी‘भाजपा द्वारा अनैतिक ढंग से सरकार गिराने’के खिलाफ राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन करेगी। 

वित्तीय धोखाधड़ी : प्योर ग्रोथ के मालिक आकाश जिंदल की कोर्ट पेशी, फरार है रस्तोगी परिवार

मुम्बई से लौटेंगे कर्नाटक के विधायक 
मुम्बई में ठहरे कांग्रेस..जद(एस) के बागी विधायक, भाजपा नेता बी एस येदियुरप्पा के दक्षिणी राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद बेंगलुरु के लिए रवाना होंगे। यह जानकारी मंगलवार को पार्टी सूत्रों ने दी। भाजपा के एक नेता ने कहा कि इस महीने के शुरू से एक आलीशान होटल में ठहरे बागी विधायक मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली जदएस...कांग्रेस गठबंधन सरकार के विश्वासमत हासिल नहीं कर पाने के बाद ‘‘बहुत खुश’’ हैं। 

RTI कानून में संशोधन को लेकर मोदी सरकार पर जमकर बरसे अन्ना हजारे

नेता ने कुमारस्वामी नीत सरकार के मंगलवार शाम कर्नाटक विधानसभा में विश्वासमत हासिल नहीं कर पाने की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘उन्हें (बागी विधायकों) वह मिल गया जो वे चाहते थे।’’ उन्होंने कहा कि विधायक येदियुरप्पा के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद मुम्बई से रवाना होंगे। बागियों ने इससे पहले इससे इनकार किया था कि उनके इस्तीफों और सरकार से समर्थन वापस लेने में भाजपा की कोई भूमिका है। 

टूर ट्रेवल पैकेज देने वाली Journeys By Jukaso से ग्राहक परेशान, टोल फ्री नंबर भी हुआ बंद

कुमारस्वामी नीत सरकार के भविष्य का फैसला करने वाले महत्वपूर्ण शक्तिपरीक्षण से पहले येदियुरप्पा ने आरोप लगाया था कि सत्ताधारी गठबंधन यह जानने के बावजूद अनावश्यक देरी कर रहा है कि सत्ताधारी गठबंधन के विधायकों को जारी व्हिप किसी काम का नहीं है। 

कन्हैया पर मुकदमा चलाने के लिए दो महीने में लेनी होगी जरूरी मंजूरी : अदालत

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.