Tuesday, Jun 28, 2022
-->
karnataka-fir-against-minister-eshwarappa-cm-basavaraj-bommai-reaction-kmbsnt

कर्नाटक: खुदकुशी केस में फंसे मंत्री ईश्वरप्पा से इस्तीफे के बारे में करूंगा डाइरेक्ट बात- CM बोम्मई

  • Updated on 4/13/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कर्नाटक के ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज मंत्री के. एस. ईश्वरप्पा के खिलाफ ठेकेदार संतोष पाटिल के खुदकुशी मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा है कि मैं उनसे डायरेक्ट बात करूंगा तभी सारी बातें साफ हो पाएगी। मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए सीएम बोम्मई ने कहा कि हां प्राथमिकी दर्ज हो गई है। सारी जानकारी इकट्ठी कर ली है। मैं ईश्वरप्पा से बात करूंगा। मुझे नहीं पता कि उन्होंने इस्तीफे के बारे में क्या कहा। जब हम सीधे बोलेंगे तो यह साफ हो जाएगा।

बता दें कि एफआईआर में ईश्वरप्पा के साथी बसवराज और रमेश का नाम भी शामिल है। एफआईआर ठेकेदार संतोश पाटिल के भाई प्रशांत की शिकायत के  बाद दर्ज की गई है। संतोश ने ईश्वरप्पा पर ठेके में 40 प्रतिशत की कमीशन खाने के आरोप लगाए थे। इसके लिए उसने प्रधानमंत्री मोदी को एक पत्र भी लिखा था, जिसमें ईश्वरप्पा की शिकायत की थी। 

बुली बाई एप मामले में 3 आरोपियों को मिली जमानत 

उडुपी के एक लॉज में मृत मिले थे संतोश पाटिल
ईश्वरप्पा पर ठेके के लिये 40 फीसदी कमीशन मांगने का आरोप लगाने वाले ठेकेदार संतोष पाटिल मंगलवार सुबह उडुपी के एक लॉज में मृत पाये गये। पुलिस को शक है कि यह खुदकुशी का मामला है और उसने जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार, बेलगावी जिले के संतोष के पाटिल का शव निजी लॉज के एक कमरे में मिला था।

पुलिस ने बताया कि उसके दोस्त उसके बगल के कमरे में ठहरे हुए थे। पाटिल ने कुछ मीडिया संस्थानों को कथित तौर पर कुछ संदेश भेजे हैं जिसमें कहा गया है कि वह आत्महत्या कर रहे हैं और आरोप लगाया कि उनकी मौत के लिए ईश्वरप्पा जिम्मेदार हैं। 

पंजाब के अधिकारियों के साथ केजरीवाल की बैठक को लेकर भड़के विपक्षी दल

ईश्वरप्पा पर चार करोड़ रुपये के काम में 40 प्रतिशत कमीशन मांगने का आरोप
खुद को भाजपा कार्यकर्ता बताने वाले पाटिल ने 30 मार्च को आरोप लगाया था कि उसने आरडीपीआर विभाग में एक काम किया था और चाहते थे कि इसका भुगतान हो, लेकिन ईश्वरप्पा ने चार करोड़ रुपये के काम में 40 प्रतिशत कमीशन की मांग की थी। मंत्री ने न केवल आरोप खारिज किया, बल्कि ठेकेदार के खिलाफ मानहानि का मुकदमा भी दायर किया था। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने मंगलवार को कहा कि पुलिस एक ठेकेदार की मौत की संपूर्ण और पारदर्शी तरीके से जांच करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.