Wednesday, Dec 11, 2019
karnataka: mayawati take mla n mahesh out of the party for not supporting kumarswami during floor test

कर्नाटकः BSP विधायक ने कुमारस्वामी के समर्थन में नहीं किया वोट, मायावती ने पार्टी से किया निष्काषित

  • Updated on 7/24/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कर्नाटक भाजपा(BJP) को बड़ी जीत मिली है, लेकिन बीजेपी की इस जीत ने सभी राजनीतिक दलों की नींदे उड़ा दी हैं। वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती(Mayawati) कर्नाटक(Karnataka) में हुए फ्लोर टेस्ट को लेकर काफी नाराज हैं। दरअसल, कर्नाटक में बीएसपी के इकलौते विधायक हैं एन महेश, जो कि कर्नाटक विधानसभा में विश्वास मत के दौरान सदन में अनुपस्थित रहे। इस पर नाराज मायावती ने बीएसपी के इकलौते विधायक को पार्टी से निष्काषित कर दिया है।

कर्नाटक प्रकरण : कांग्रेस बोली, खरीद-फरोख्त के खिलाफ होगा राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन

एन महेश कर्नाटक में इकलौते विधायक
मायावती ने अपनी पार्टी से कर्नाटक के इकलौते विधायक एन महेश पर अुशासनहीनता का आरोप लगाते हुए उन्हें पार्टी से बाहर निकाल दिया है। दरअसल, बीएसपी सुप्रीमो मायावती चाहती थीं कि कर्नाटक में उनके जो एकमात्र विधायक हैं वह फ्लोर टेस्ट के दौरान कुमारस्वामी सरकार के पक्ष में मत करें और इसी को लेकर उन्होंने पूर्व में विधायक को निर्देश भी दिए थे, लेकिन इसके उलट उनके विधायक फ्लोर टेस्ट के दौरान गायब रहे, जिसके चलते बीएसपी(BSP) सुप्रीमो ने विधायक एन महेश को पार्टी से निकाल दिया है।

RTI कानून में संशोधन को लेकर मोदी सरकार पर जमकर बरसे अन्ना हजारे

ट्वीट करके दी जानकारी
मायावती ने खुद इसकी जानकारी जनता को दी है। ट्वीट करते हुए लिखा कि 'कर्नाटक में कुमारस्वामी (H.D.Kumaraswamy) सरकार के समर्थन में वोट देने के पार्टी हाईकमान के निर्देश का उल्लंघन करके बीएसपी विधायक एन महेश आज विश्वास मत में अनुपस्थित रहे जो अनुशासनहीनता है जिसे पार्टी ने अति गंभीरता से लिया है और इसलिए श्री महेश को तत्काल प्रभाव से पार्टी से निष्कासित कर दिया गया।'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.