Tuesday, Dec 10, 2019
karnataka news kumaraswamy b s yeddyurappa congress jdu

कर्नाटक:विधानसभा में नहीं तय हो पाया कुमारास्वामी सरकार का भविष्य

  • Updated on 7/19/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कर्नाटक में चल रहा राजनीतिक विवाद आज दिन भर की मारामारी के बाद थी थमा नहीं हैं, बता दें कि राज्यपाल के दो बार आदेेश देने के बाद भी आज सदन में फ्लोर टेस्ट पास नहीं हो सका। उससे पहले मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने स्पीकर से सोमवार तक फ्लोर टेस्ट को टालने को कहा था।  इससे पहले राज्यपाल वजुभाई पटेस के 1.30 बजे तक  मुख्यमंत्री को बहुमत साबित करने का आदेश दिया था, राज्यपाल ने कुमारस्वामी को दूसरी बार भी नया आदेश देते हुए उन्हें आज 6 बजे तक बहुमत पेश करने को कहा था लेकिन वर्तमान में स्थति यह हैं कि अभी तक विश्वास मत पर कोई चर्चा नहीं हुई है। 

 

 

 अब सोमवार को बहुमत पेश होगा
बता दें कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने राज्यपाल के आदेश के बाद भी स्पीकर से सोमवार तक के लिए समय मांगा है इससे पहले राज्यपाल ने दो बार मुख्यमंत्री को आज फ्लोर टेस्ट कराने को कहा था, लेकिन पूरा दिन निकलने के बाद भी फ्लोर टेस्ट नहीं हो सका। जिसके बाद अब पूरी संभावना है कि अब बहुमक सोंमवार को  ही साबित हो सकेगा।

बीजेपी चाहती थी कि आज पेश हो बहुमत
 मुख्य विपक्षी पार्टी बीजेपी इससे सहमत नहीं हैं। बीजेपी चाहती है कि आज ही विश्वास मत पेश किया जाये। कुमारस्वामी के बाद कांग्रेस की तरफ से  सिद्धारमैया ने भी स्पीकर से कहा है कि अब फ्लोर टेस्ट सोमवार को ही किया जाना चाहिए। सोमवार को चाहें कितना भी समय लग जाये मगर सोमवार को इस प्रकिया को पूरा कर लिया जायेगा।     

 

गेट के बाहर खड़ी है बसें
कर्नाटक का सियासी संग्राम है कि थमने का नाम ही नहीं ले रहा, विधानसभा में कुमारस्वामी और कांग्रेस के सोमवार को फ्लोर टेस्ट कराने के प्रस्ताव के बाद अब विधानसभा के बाहर कांग्रेस और जेडीएस ने अपनेे-अपने विधायकों को सुरक्षित घर पंहुतचाने के लिए बसों की मंगा ली हैं। 


 

इससे पहले 1.30 तक साबित करना था बहुमत
बता दें कि इससे पहले राज्यपाल वजुभाई पटेल ने मुख्यमंत्री कुमारस्वामी को आज दिन 1.30 तक बहुमत पेश करने का आदेश  दिया था। लेकिन स्पीकर से विश्वासमत पर चर्चा नहीं करायी। जिस कारण डेडलाईन निकल गयी। लेकिन अब दोबारा से राज्यपाल ने  मुख्यमंत्री को  6 बजे तक का समय दिया है। 
कर्नाटक विवाद: कुमारस्वामी पर लगा टोटका करके सरकार बचाने का आरोप

कुमारस्वामी बोले राज्पाल की चिट्ठी से मुझे बचाओ
राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा है कि मैं फ्लोर टेस्ट का पूरा अधिकार विधानसभा के स्पीकर पर छोड़ता हूं। अब यह पूरी तरह  से उनकी जिम्मेदारी है। वह चाहतें हैं कि फ्लोर टेस्ट का निर्णय दिल्ली से नहीं आना चाहिए। वह कहतें हैं कि राज्यपाल की तरफ से आयी चिट्ठी से मेरी रक्षा की जाये।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.