Monday, Jun 27, 2022
-->
karnataka santosh patil''''s brother demand ks eshwarappa arrest kmbsnt

कर्नाटक: मंत्री ईश्वरप्पा की गिरफ्तारी की मांग तेज, संतोष पाटिल के भाई ने शव लेने से किया इनकार

  • Updated on 4/13/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कर्नाटक में एक ओर ठेकेदार संतोश पाटिल के खुदकुशी मामले में जहां राजनीति गरमा गई है तो वहीं दूसरी ओर पाटिल के भाई ने भी मंत्री केएस ईश्वरप्पा की गिरफ्तारी की मांग की है। संतोष पाटिल के भाई प्रशांत पाटिल ने कहा है कि कर्नाटक मंत्री केएस ईश्वरप्पा, बसवराज और रमेश (ईश्वरप्पा के करीबी सहयोगी) को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। 

कर्नाटक: ठेकेदार खुदकुशी मामले में मंत्री ईश्वरप्पा के खिलाफ FIR दर्ज

हम अपने भाई के लिए इंसाफ चाहते हैं- प्रशांत पाटिल
प्रशांत का कहना है कि हम अपने भाई के लिए इंसाफ चाहते हैं। जिन लोगों के नाम एफआईआर में दर्ज हैं, उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए, तब तक हम अपने भाई का शव नहीं लेंगे। 

वहीं दूसरी ओर आप नेताओं ने ठेकेदार संतोष पाटिल की मौत के मामले में राज्य मंत्री केएस ईश्वरप्पा के इस्तीफे की मांग के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इनमें से कई को हिरासत में लिया गया है। 

कर्नाटक में ठेकेदार की मौत का मामला: राहुल गांधी ने PM मोदी, CM बोम्मई पर साधा निशाना 

मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने क्या कहा
ईश्वरप्पा के खिलाफ ठेकेदार संतोष पाटिल के खुदकुशी मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा है कि मैं उनसे डायरेक्ट बात करूंगा तभी सारी बातें साफ हो पाएगी। मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए सीएम बोम्मई ने कहा कि हां प्राथमिकी दर्ज हो गई है। सारी जानकारी इकट्ठी कर ली है। मैं ईश्वरप्पा से बात करूंगा। मुझे नहीं पता कि उन्होंने इस्तीफे के बारे में क्या कहा। जब हम सीधे बोलेंगे तो यह साफ हो जाएगा।

बता दें कि एफआईआर में ईश्वरप्पा के साथी बसवराज और रमेश का नाम भी शामिल है। एफआईआर ठेकेदार संतोश पाटिल के भाई प्रशांत की शिकायत के  बाद दर्ज की गई है। संतोश ने ईश्वरप्पा पर ठेके में 40 प्रतिशत की कमीशन खाने के आरोप लगाए थे। इसके लिए उसने प्रधानमंत्री मोदी को एक पत्र भी लिखा था, जिसमें ईश्वरप्पा की शिकायत की थी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.