Tuesday, Jul 23, 2019

बातचीत से सुलझाया जाना चाहिए कश्मीर विवाद: फारुक अब्दुल्ला

  • Updated on 7/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) ने बृहस्पतिवार को कहा कि कश्मीर भारत (india) और पाकिस्तान (pakistan) के बीच एक ‘‘विवाद’’ है, जिसे बातचीत के जरिये सुलझाये जाने की आवश्यकता है। श्रीनगर से सांसद अब्दुल्ला ने कहा कि सैन्य ताकत से कुछ हासिल नहीं होगा।

विधानसभा अध्यक्ष का दावा, बागी विधायकों को है जान का खतरा

कश्मीर विवाद

उन्होंने कहा,‘‘कश्मीर दोनों देशों (भारत और पाकिस्तान) के बीच एक विवाद है। यह मुद्दा अब भी संयुक्त राष्ट्र में है। संयुक्त राष्ट्र के पर्यवेक्षक अब भी यहां और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में मौजूद हैं। इस मुद्दे को सुलझाया जाना चाहिए और यह तभी सुलझेगा जब दोनों देश एक दूसरे से बातचीत करेंगे तथा भारत यहां कश्मीर के लोगों से और पाकिस्तान आजाद कश्मीर के लोगों से बात करेगा।

ग्रीन कार्ड पर अमेरिकी संसद ने उठाया बड़ा कदम, भारतीयों को होगा फायदा

अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) ने अपनी मां बेगम जहां आरा की 19वीं बरसी पर हजरतबल में आयोजित एक कार्यक्रम में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के लिये बातचीत का कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘सैन्य ताकत या सेना अथवा एनआईए समेत बल प्रयोग से कुछ हासिल नहीं होगा। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.