kashmir issue pakistam pm telphponic conersation with germany pm

कश्मीर मामले को लेकर जर्मनी की शरण में पाकिस्तान, फोन पर मांगी मदद

  • Updated on 8/24/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कश्मीर (Kashmir) को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) कितना घबराया हुआ है उसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वह हर देश से मदद की मांग कर रहा है। वह भारत (India) को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नुकसान पहुंचाने के लिए लगभग हर देश के आगे गिड़गिड़ा रहा है। कश्मीर मुद्दे पर चारों ओर से मुहं की खाने के बाद पाकिस्तान अब जर्मनी की शरण में जा पहुंचा है। पाक के पीएम इमरान खान (Imran Khan) ने शुक्रवार को जर्मनी (Germany) की चांसलर एंजेला मर्केल से इस मामले पर फोन पर बात की है।

UAE में बोले PM मोदी- अनुच्छेद 370 के कारण आतंकवाद की मार झेल रहा था कश्मीर

विदेश दफ्तर ने बताया कि पाक पीएम (Pak PM) ने बातचीत में कहा कि भारत की और से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करने से क्षेत्र में शांति एवं सुरक्षा पर गंभीर प्रभाव पड़ेगा। इसलिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय की यह जिम्मेदारी बनती है कि वह इस मुद्दे पर तत्काल कार्रवाई करे।

भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए मुख्य 'संकटमोचक' थे जेटली

मर्केल का कहना है कि वह कश्मीर की स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। साथ ही इस मुद्दे को बिना किसी तनाव के शांतिपूर्ण तरीक से हल करने की अहमियत को बढ़ावा दिया है। बता दें कि भारत ने अतंरराष्ट्रीय समुदाय को साफ कह दिया है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करना हमारा आतंरिक मामला है और पाकिस्तान को इस सच्चाई को स्वीकार करना होगा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.