Wednesday, Jun 26, 2019

कश्मीरी पंडितों ने फारुख अब्दुला को मंदिर जाने से रोका, लगाए मोदी- मोदी के नारे

  • Updated on 6/13/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू और कश्मीर (jammu &kashmir) के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुला (farookh abdulla) के सामने उस समय विचित्र स्थिति पैदा हो गई जब कश्मीरी पंडितों ने मोदी-मोदी (modi-modi) के नारे लगाना शुरु कर दिए। कश्मीरी पंडितों ने भारत माता की जय का भी नारा लगाया। यह वाकय़ा तब घटित हुआ जब श्राइन मंदिर (shrine temple) परिसर के बाहर अब्दुला पहुंचे थे। वे वहां कश्मीरी पंडितों की समस्या जानने के लिए उनके बीच गए थे।

 बीजेपी में शामिल हुए AAP के एल्डरमैन बने नरेला के डिप्टी चेयरमैन

कश्मीर वापसी की पुरानी मांग

जब मोदी-मोदी के नारे लग रहे थे तो फारुख अब्दुला एकदम शांत थे। वे कुछ बोलना चाहते थे लेकिन हर-हर महादेव के नारे से माहौल गूंज गया। कश्मीरी पंडितो ने कश्मीर वापसी की पुरानी मांग को लेकर अब्दुला सरकार के कुछ भी नहीं करने से नाराज थे।

विजेंद्र यादव की जीत पर गुप्ता ने दी बधाई, कहा- आप जा रही है बीजेपी आ रही है

आतंकवाद कारण राज्य छोड़ने पर विवश कश्मीरी

मालूम हो कि साल 1989 में राज्य में शुरु हुए आतंकवादी घटना से मजबूर होकर कश्मीरी पंडितों को राज्य से बाहर जाने के लिए विवश होना पड़ा। जो राजधानी दिल्ली समेत देश के अन्य हिस्सों में रहने के लिए मजबूर होना पड़ा।  
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.